KBC में जन्मदिन पर रोए अमिताभ बच्चन, दीपा और मानसी के गिफ्ट से हुए भावुक

KBC में जन्मदिन पर रोए अमिताभ बच्चन, दीपा और मानसी के गिफ्ट से हुए भावुक
मुंबई. कौन बनेगा करोड़पति (Kaun Banega Crorepati) के 11वें सीजन (KBC Season 11) में शुक्रवार का एपिसोड बेहद खास रहा. शुक्रवार होने के नाते यह एक कर्मवीर स्पेशल शो था. इसमें राष्ट्रीय बालिका दिवस होने के नाते देश की दो बेटियां दीपा मलिक (Deepa Malik) और मानसी जोशी (Manasi Joshi) को बुलाया गया. ये दोनों ही बेटियां पैरालंपिक खेल जगत में भारत का विश्वभर में मान पढ़ा चुकी हैं. मानसी पैरालंपिक बैडमिंटन प्लेयर हैं जबकि दीपका मलिक जैवलिन थ्रो करती हैं.

मां-बाबूजी की छवि देखकर भावुक हुए अमिताभ
केबीसी में दीपा मलिक और मानसी जोशी ने अमिताभ बच्चन के लिए उनके पिता कवि हरिवंश राय बच्चन की कविता पढ़ते हुए कुछ वीडियो और कुछ पारिवारिक लम्हों का वीडियो पेश किया. इसको देखने के बाद अमिताभ ने कहा कि अब उनके मां-बाबूजी तो नहीं हैं लेकिन जाने कहां से उनकी छवियां ढूंढ़ लाते हैं और भावुक कर देते हैं.

ट्रैफिक सिग्नल ना चलने से हुआ था मानसी का एक्सिडेंटदोनों ने केबीसी के दौरान अपनी जिंदगी की कई घटनाओं की जानकारी दी. मानसी जोशी ने बताया कि एक सड़क दुर्घटना का शिकार होने के बाद उनका बायां पैर काटना पड़ा. वह अपने टू-व्हीलर से जा रही थीं और ट्रैफिक-सिग्नल काम नहीं कर रहे थे. तभी एक ट्रक उनके पैर को कुचलते हुए चला गया. इसके बाद उनका काफी खून बहा. लेकिन दुर्भाग्य से वहां मेडिकल फैसिलिटी भी उपलब्‍ध नहीं हो पाई. उन्हें एक ऐसी गाड़ी से अस्पताल ले जाया गया जिसमें वो पूरी तरह से सो नहीं पा रही थीं, क्योंकि गाड़ी की लंबाई कम थी.



KBC 11: अमिताभ के लिए 'हैप्पी बर्थडे टू यू' गाने वाले कंटेस्टेंट ने जीते इतने लाख रुपये
22 लाख का प्रोस्थैटिक लेग पहनना पड़ता है मानसी को
दुर्घटना का शिकार होने के बाद मानसी का पैर ऑपरेट करना पड़ा. इसके बाद उन्हें प्रोस्थैटिक लेग का सहारा लेना पड़ा. लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि इन मानव निर्म‌ित पैर की कीमत 22 लाख रुपये से भी ज्यादा होती है. मानसी जो पैर अपने सामान्य कामों के लिए इस्तेमाल करती हैं उसकी कीमत 22 लाख है. इसके अलावा जिन पैरों को पहनकर वो मैदान में उतरती हैं वो 5 लाख का है. जबकि इन पैरों की लाइफ महज पांच साल होती है. हर पांच साल बाद उन्हें ये खरीदने होंगे. जब अमिताभ ने पूछा कि क्या इसमें कोई सब्‍सिडी मिलती है? इस पर मानसी ने बताया कि उन्हें कोई सब्सिडी नहीं मिलती.



VIDEO: मौत के मुंह से बच कर वापस घर पहुंचे थे बिग बी, ऐसे हुआ था स्‍वागत



जैवलिन थ्रो करने से पहले दीपा करती थीं तैराकी
शरीर का आधा से ज्यादा हिस्सा नि‌ष्‍क्रिय होने के बाद भी दीपा मलिक जिम में घंटों बिताती हैं. वह किसी सामान्य आदमी से भी ज्यादा वक्त तक जिम में पसीना पहाती हैं. वह पहले एक तैराक बनना चाहती थीं. उन्होंने कुछ अंतराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में भाग भी लिया था. लेकिन वह ठंडे पानी में सही प्रदर्शन नहीं पा रही थीं. उन्होंने खुद साबित करने के लिए प्रयागराज (तब इलाहाबाद) में यमुना की धारा के विपरीत तैर कर टेस्ट पास किया. लेकिन फिर से वे ठंडे प्रदेश और ठंडे पानी में बेहतर प्रदर्शन करने में असमर्थ रहीं. इसके बाद उन्होंने जैवलिन थ्रो का रुख किया.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)