गुजराती आदित्य को इलाहाबादी बनने में लगे 4 महीने, लहजा पकड़ने कॉलेज में अकेले छोड़ा जाता था

गुजराती आदित्य को इलाहाबादी बनने में लगे 4 महीने, लहजा पकड़ने कॉलेज में अकेले छोड़ा जाता था





अमित कर्ण, मुंबई.साल के आखिर तक परेश रावल के बेटे आदित्य रावल की फिल्म 'बमफाड' रिलीज होने वाली है। जिसे अनुराग कश्यप और जार पिक्चर्स वाले अजय राय प्रोड्यूस कर रहे हैं। यह मूल रूप से इलाहाबाद के बैकड्रॉप पर बनी एक रोमांटिक फिल्म है। फिल्म के डायरेक्टर रंजन चंदेल ने बताया कि आदित्य बेशक गुजराती हैं, मगर उन्होंने फिल्म में इलाहाबाद का टोन बखूबी पकड़ा है।

डायरेक्टर ने ही किया ट्रेंड : बमफाड़ के लिए आदित्य की ट्रेनिंग खुद चंदेल ने की, जो कानपुर सेहैं। हालांकि रंजन ने आदित्य को यूं ही कास्ट नहीं किया। उनके पास तीन से चार महीनों का डेडलाइन था। उस टाइमफ्रेम में वे डायलेक्ट पर पकड़ नहीं बना पाते तो उन्हें चलता किया जा सकता था। लेकिन ऐसी नौबत नहीं आई। आदित्य के दोस्त के रोल में सेक्रेड गेम्स से फेमसहुए जतिन सरना हैं। विलेन के रोल में गली ब्वॉय फेम विजय वर्मा हैं।

कॉलेज की भीड़ में छोड़ देते थे :डायरेक्टर रंजन चंदेल ने बताया-'फिल्म की शूट से पहले मैं खुद आदित्य के साथ तीन-चार महीने स्क्रिप्ट की रीडिंग करवाता रहा। उस रीडिंग से आदित्य को इलाहाबाद का लहजा पकड़ने में मदद मिली। फिल्म में उन्हेंवहां कीटोन में बात करता देख दर्शक यकीन नहीं कर पाएंगे कि आदित्य गुजराती हैं। उन्हें वहां के युवाओं की साइकी पकड़ने के लिए कानपुर के डीएवी कॉलेज में स्टूडेंट्स की भीड़ के बीच अकेले छोड़ दिया जाता था।

ये है फिल्म की स्टार कास्ट : आदित्य के अपोजिट शालिनी पांडे हैं, जो जबलपुर की हैं। वे साउथ में इससे पहले 'अर्जुन रेड्डी' में काम कर चुकी हैं। हिंदी में शालिनी का भी यह डेब्यूहोगा। वे चूंकि हिंदी भाषी क्षेत्र से हैं। ऐसे में, उन्हें इलाहाबादी युवती वाले किरदार के एक्सेंट को पकड़ने में ज्यादा दिक्कत नहीं हुई। विजय वर्मा ऑलरेडी इलाहाबाद के बैकड्रॉप पर हुड़दंग कर रहे हैं।

यह है फिल्म की कहानी : फिल्म मूल रूप से इलाहाबाद के मिडिल क्लास फैमिली में प्यार की मान्यताओं और तरीकों को लेकर है। आदित्य रावल इसमें ठेकेदार के बेटे के रोल में हैं। रंजन चंदेल ने इसमें इलाहाबाद के स्टूडेंट पॉलिटिक्स और वहां की डायलॉगबाजी को नहीं रखा है। उनका फोकस इलाहाबाद पर फ्रेश टेक लेने पर है। यह शूट हो चुकी है। इसे इस साल के आखिर तक रिलीज करने की तैयारी है।









this is how gujrati Aditya Rawal took command over allahabadi tone for film Bamfaad






this is how gujrati Aditya Rawal took command over allahabadi tone for film Bamfaad






this is how gujrati Aditya Rawal took command over allahabadi tone for film Bamfaad






(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Bhaskar.)