स्कूल के टॉयलेट में एक घंटे तक बंद रहा बच्चा, रोने की आवाज सुनी तो...

स्कूल के टॉयलेट में एक घंटे तक बंद रहा बच्चा, रोने की आवाज सुनी तो...
बालासोर. ओडिशा (Odisha) में पहली कक्षा के एक बच्चे को स्कूल (School) के टॉयलेट (Toilet) में एक घंटे से ज्यादा समय तक अकेले रहना पड़ा, क्योंकि स्कूल के कर्मचारी ने शौचालय की जांच किए बिना ही स्कूल का दरवाजा बंद कर दिया था. इस मामले में स्कूल की प्रिंसिपल (Principal) को अपने कार्य में कोताही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है.

सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि बुधवार को पहली कक्षा का एक बच्चा एक घंटे से ज्यादा समय तक स्कूल में अकेले रहा. वह शौचालय गया था लेकिन उसी दौरान स्कूल के कर्मचारी ने वहां किसी के होने की जांच किए बिना ही दरवाजा बंद कर दिया. बच्चे के पिता को उसे लेने के लिए स्कूल पहुंचने में कुछ देर हो गई थी.

रोने की आवाज सुनी तो लोगों ने निकाला

सूत्रों ने बताया कि बच्चा स्कूल के दरवाजे के पास आकर रोने लगा. इसके बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने बच्चे को चुप कराया और उस कर्मचारी को बुलाया, जिसके पास स्कूल की चाभी थी और बच्चे को निकाला गया.टॉयलेट की जांच किए बगैर गेट कर दिया था बंद

बच्चे के पिता ने कहा ‘स्कूल के गेट पर ताला लगाने वाले कर्मचारी ने यह जांच ही नहीं की कि अंदर कोई है या नहीं. मेरे बेटे ने शौचालय जाने से पहले टीचर को सूचित किया था.’ वहीं, प्रिंसिपल शांति प्रतिमा महापात्र का कहना है कि स्कूल सड़क के किनारे होने की वजह से वह द्वार पर ताला लगवा देती थीं.

सोशल मीडिया अकाउंट को आधार से जोड़ने पर SC ने कहा - हमें ही कुछ करना होगा
बंगाल जीतने के लिए बीजेपी ने बनाई ये रणनीति, हर सीट पर नज़र रखेगी खास टीम

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)