तबरेज मॉब लिंचिंग मामलाः गवाह ने कहा- चिल्ला रहे थे लोग 'इतना मारो की मर जाए'

तबरेज मॉब लिंचिंग मामलाः गवाह ने कहा- चिल्ला रहे थे लोग 'इतना मारो की मर जाए'
रांची. एक तरफ झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग (Tabrez Ansari Mob Lynching) मामले में आरोपियों पर से हत्या की धाराओं को बदल कर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज (Murder Case) कर चार्जशीट दाखिल (Chargesheet File) कर चुकी है. पुलिस का तर्क है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के हिसाब से हत्या का मामला नहीं बनता क्योंकि तबरेज की मौत हार्ट अटैक के चलते हुई है, न कि सिर में लगी चोट के कारण. वहीं दूसरी तरफ पुलिस की ही चार्जशीट कुछ और भी बयां कर रही है. केस डायरी और गवाहों के बयान पुलिस की ही बातों को कटघरे में खड़ा करती हैं. अंसारी के रिश्तेदार मोहम्मद मसरूर आलम के बयान के अनुसार जैसे ही उसे मामले की जानकारी मिली वह मौके पर पहुंचा. वहां पर भीड़ में एक व्यक्ति चिल्ला रहा था-इतना मारो की मर जाए. लोग लगातार कह रहे थे इसे छोड़ना मत, मारो इसे.

24 लोगों के दर्ज हुए बयान
मामले में पुलिस ने अब तक 24 लोगों के बयान दर्ज किए हैं. यह सभी बयान चार्जशीट में दिए गए हैं, साथ ही डॉक्टरों की एक प्रारंभिक रिपोर्ट भी है जिसमें बताया है कि विसरा जांच के अनुसार तबरेज की मौत जहर से नहीं हुई है, मौत का कारण सिर में लगी चोट है.

रिपोर्ट आने से पहले ही बदल दी थी धारापुलिस केस डायरी से एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया. पुलिस ने हत्या की धारा को हटा दिया जबकि फॉरेंसिक लैब से विसरा की रिपोर्ट तब तक आई नहीं थी. यदि सही तरह से देखा जाए तो पुलिस ने फॉरेंसिक रिपोर्ट आने का इंतजार नहीं किया. वहीं केस डायरी में पुलिस ने एक नोट पहले से दे रखा था कि विसरा रिपोर्ट आने के बाद आईपीसी की धाराओं में बदलाव हो सकता है.

पत्नी ने कहा था- पुलिस ने दबाव में बदली धारा
वहीं पुलिस के धाराओं के बदलाव करने के बाद तबरेज की पत्नी एस परवीन ने कहा था कि पुलिस ने प्रशासन के दबाव में आकर मामले की धाराओं में बदलाव किया है. परवीन ने कहा था कि पुलिस अब आरोपियों को बचाना चाह रही है. मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए. इस मामले में सरायकेला के पुलिस अधीक्षक एस कार्तिक ने कहा था कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के अनुसार यह मामला हत्या का नहीं बनता है. इसी के चलते गैर इरातदतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है.
ये भी पढ़ेंः तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग: न्यूज़ 18 से बोले SP- धारा 302 हटाया नहीं, बल्कि उसे 304 में बदला


तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग: पत्नी बोली- आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने दबाव में बदली धाराएं
ये भी पढ़ेंः तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग: न्यूज़ 18 से बोले SP- धारा 302 हटाया नहीं, बल्कि उसे 304 में बदला

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)