अखिलेश यादव का तंज, जिस टेढ़ी आंख से पाक को देख रहे हो, जरा मानसरोवर तो ला दो

अखिलेश यादव का तंज, जिस टेढ़ी आंख से पाक को देख रहे हो, जरा मानसरोवर तो ला दो
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने डीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि रामपुर जिले के बाद इनकी पोस्टिंग बनारस में हो. वरूणा नदी के किनारे जितने अवैध मकान बने हैं, उन्हें ध्वस्त करवाएंगे. हमारी हिम्मत नहीं हुई वहां तोड़ने की. अखिलेश यादव ने व्यंग्य करते हुए नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार से पूछा कि आपकी डिफेंस पॉलिसी क्या है? पाकिस्तान में सबसे बेहतरीन एयरक्राफ्ट एफ-16 है. हमें अमेरिका सी-17 दे रहा है. असली कारोबार कौन कर रहा है. दोनों एयरक्राफ्ट बनाने वाली कंपनी एक ही है. अभी देश को राफेल का भी भुगतान करना है. अखिलेश यादव ने रामपुर में शुक्रवार को कहा कि, ‘जिस टेढ़ी आंख से पाकिस्तान को देख रहे हो, जरा हमारा मानसरोवर तो ला दो’. रामपुर से सपा सांसद आजम खान का समर्थन करने पार्टी मुखिया अखिलेश यादव शुक्रवार को रामपुर पहुंचे. उन्होंने हमसफर रिसॉर्ट्स में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह बात कही. इससे पहले समाजवादी पार्टी ने रंगोली मंडप में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया था, जिसकी प्रशासन से अनुमति भी ली गई थी. अंतिम समय में कार्यक्रम हमसफर रिसॉर्ट्स में कर दिया गया. उल्लेखनीय है कि मानसरोवर अभी चीन के कब्जे में हैं.

रामपुर में दो जगह किया गया अखिलेश यादव का विरोध
वहीं अखिलेश यादव के दौरे का रामपुर में दो जगह विरोध किया गया. एक पूर्व जिला पंचायत अब्दुस सलाम ने आलिया गंज के पीड़ित किसानों के साथ विरोध किया. आलिया गंज के किसानों की जमीन कब्जा करने के मामले में आजम खान पर मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं. अब्दुस सलाम ने आलिया गंज ने किसानों के साथ अखिलेश यादव और आजम खान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और बिलासपुर में अपने फार्म हाउस के पास अखिलेश यादव ओर आजम खान के पुतले फुंके.

फैसल लाला का पुलिस ने कर लिया गिरफ्तार वहीं यतीमखाना पीड़ितों के साथ कांग्रेस से निष्काषित नेता फैसल लाला ने आजम खान का विरोध किया. फैसल ने यतीमखाना के पास विरोध प्रदर्शन करने के बाद आजम खान के रिसॉर्ट्स के लिए आगे बढ़े तो पुलिस ने करीब 80 लोगों के साथ उनको गिरफ्तार कर लिया और पुलिस लाइन ले गई. मौके पर सीओ विद्या किशोर ने बताया कि उन्होंने इन लोगों को गिरफ्तार किया है. ये लोग विरोध करने हमसफर रेसॉर्ट्स जा रहे थे. शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं अखिलेश यादव ठीक 8:30 बजे हमसफर रिसॉर्ट्स पहुंचे. उनका कार्यक्रम 10 :15 बजे तक चला.

'बकरियां हम दिलवा देंगे'
आजम खान के बकरी चोरी मुकदमे को अखिलेश यादव ने अपने ऊपर लगे कथित टोटी चोरी से तुलना करते हुए कहा कि “बकरियां हम दिलवा देंगे, उत्तर प्रदेश सरकार को जब कुछ नहीं मिला तो मुझे टोटी चोर बता दिया. हम टोटी लेकर गए जितनी चाहे ले लो. अब बकरी, गाय और भैंस जितनी चाहिए हम दिलवा देंगे. हमारी सरकार आई तो डीएम को बनारस का कमिश्नर बनाकर भेजेंगे और वरुणा नदी किनारे से अवैध कब्जे खाली करवाएंगे. बीजेपी के लोग हमें बैकवर्ड हिन्दू समझते हैं.”
'हमारे परिवार का हिस्सा हैं आजम खान'
अखिलेश यादव बोले कि, “आजम खान से हमारा कोई राजनीतिक रिश्ता नहीं है. उन्होंने जैसे अब्दुल्ला को माना है, वैसे ही हमें भी माना है. आज़म खान हमारे परिवार का हिस्सा हैं.” अखिलेश बोले कि आजम खान ने यूनिवर्सिटी बनाकर देश-प्रदेश के लोगों का भाग्य बदलने का कार्य किया है इसलिए यह सरकार आजम खान की दुश्मन है. एक के बाद एक मुकदमा दर्ज किया गया है, जिनकी भाषा एक है. लगता है कोई एक ही है जो मुकदमे लिखवा रहा है. यह ऊपर वाला जनता होगा कि, कौन मुकदमा लिखवा रहा होगा.

मुलायम के बाद आजम खान पर दर्ज हुए सबसे अधिक मुकदमे
अखिलेश यादव ने कहा कि उन्होंने आते समय खबर पड़ी आज़म खान के ऊपर बकरी चोरी का मुकदमा दर्ज किया गया है. उन्होंने पूरी खबर नहीं पढ़ी, अच्छी नहीं लगी. उन्होंने कहा कि नेतीजी (मुलायम सिंह यादव) पर एक रात में 100 से ज़्यादा मुकदमे दर्ज किए गए थे. यूपी के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ. उसके बाद अगर किसी के ऊपर कम समय में अधिक मुकदमे दर्ज हुए हैं तो आजम खान के ऊपर दर्ज हुए हैं.

... उनसे क्या उम्मीद करें
यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, “हमें न्यायालय पर भरोसा है. हम न्यायालय में लड़ाई लड़ेंगे. जो आज सरकार में हैं वो हमें कहते थे कि सपा सरकार, गुंडो की सरकार है, लेकिन उनके डिप्टी सीएम पर मुकदमे हैं. मुख्यमंत्री ने अपना केस खुद वापस लिया है, उनसे क्या उम्मीद करें.” अखिलेश यादव ने कहा कि बीजपी ने संविधान की धज्जियां उड़ाईं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने नोट बंद किये थे कि, नकली नोट खत्म हो जाएंगे. आज न्यूज़ में पढ़ा कि 10 गुना ज़्यादा नकली नोट आ रहे हैं.

… तब भी अखिलेश यादव साथ खड़े हैं: अब्दुल्ला आजम
मंच से आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आज़म ने कहा कि जब बहुत से लोगों ने आजम खान का साथ छोड़ दिया तब भी अखिलेश यादव साथ खड़े हैं. उन्होंने कहा कि सरकार नहीं चाहती कि रिक्शा वाले, बीड़ी वाले, पढ़ें ओर आगे बढ़ें. उन्होंने कहा कि हमें दुश्मनों को पहचानना होगा. अब्दुल्ला ने कहा कि, “हमने आपके लिए बहुत अच्छा इंतज़ाम किया था लेकिन एक साजिश की वजह से हमको और आपको यहां बैठना पड़ा”.

जीना है तो मरना सीखो, कदम-कदम पर लड़ना सीखो: नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी
नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि रामपुर के लोगों, आजम खान को अपमानित किया जा रहा है. हम इस अपमान में शामिल होने आए हैं. मैंने 2 दिन विधानसभा यह सवाल उठाया कि यूपी में लगता है कि कानून नहीं है. उन्होंने कहा कि हम आपका हौसला बढ़ाने आए हैं. उन्होंने "जीना है तो मरना सीखो, कदम-कदम पर लड़ना सीखो" शेर पढ़कर कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने की कोशिश की.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)