मोदी सरकार दे रही 50 हजार रुपये की मदद, लेकिन यहां आर्गेनिक कंपोस्ट पर लगी रोक

मोदी सरकार दे रही 50 हजार रुपये की मदद, लेकिन यहां आर्गेनिक कंपोस्ट पर लगी रोक
नई दिल्ली. मोदी सरकार (Modi Government) केमिकल वाली खाद छोड़कर जैविक खाद का इस्तेमाल करने की अपील कर रही है. सरकार इसके लिए बनाई गई स्कीम PKVY (Paramparagat Krishi Vikas Yojana) के तहत प्राकृतिक खेती (Organic Farming)  के लिए प्रति हेक्टेयर 50 हजार रुपये दे रही है,  लेकिन हरियाणा (Haryana) ने ऐसी खेती में इस्तेमाल होने वाले बायो फर्टिलाइजर की बिक्री पर रोक लगा दी है.  वजह इसे बनाने वाली कंपनियों का रजिस्टर्ड नहीं होना है. यह फैसला किसानों के हक में लिया गया है, ताकि वे कहीं आर्गेनिक कंपोस्ट के नाम पर कुछ और न खरीद बैठें.

दरअसल, जमीन को जहरीली होने से बचाने के लिए इन दिनों आर्गेनिक फार्मिंग पर जोर दिया जा रहा है. केमिकल फर्टिलाइलर (Chemical Fertilizers)  से लोगों का स्वास्थ्य भी खराब हो रहा है. इस वजह से सरकार राष्ट्रीय स्तर पर आर्गेनिक खेती करने के लिए आर्थिक मदद दे रही है. इसके लिए खेत में किसानों को बायो फर्टिलाइजर का इस्तेमाल करना होता है. जरूरत भांपकर कई कंपनियों ने अपने बायो फर्टिलाइजर यानी आर्गेनिक कंपोस्ट बेचने शुरू कर दिए. कुछ ब्रांडेड कंपनियों के अलावा कई नाम से खाद मनमाने तरीके से किसानों को बेचे जाने लगे हैं.

इसको लेकर हरियाणा-पंजाब हाईकोर्ट ने सरकार को गाइडलाइन जारी करने के आदेश दिए थे. उसके बाद सरकार ने 16 अगस्त को कंपनियों को रजिस्ट्रेशन कराने के लिए 15 सितंबर तक का समय दिया,  लेकिन किसी ने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया. फिर क्या था एग्रीकल्चर कमिश्नर ने सभी बायो फर्टिलाइजर की बिक्री पर तत्काल रोक लगा दी. खाद विक्रेता केवल उन्हीं कंपनियों के बायो फर्टिलाइजर बेचेंगे, जिनका रजिस्ट्रेशन एग्रीकल्चर डायरेक्टर के यहां होगा. इसके सबूत के तौर पर रजिस्ट्रेशन की फोटो कॉपी दुकान पर लगानी होगी.

पीएम नरेंद्र मोदी ने की है जैविक खेती की ओर ध्यान देने की अपील, (File Photo)
कृषि (Agriculture) विभाग से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि खाद की दुकानों पर तत्काल छापामारी करने के आदेश कृषि आयुक्त ने दिए हैं. ताकि रजिस्टर्ड कंपनी का ही प्रोडक्ट इस्तेमाल हो. सोनीपत में कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर ने उर्वरक विक्रेताओं की बैठक लेकर बायो उर्वरक की बिक्री न करने के आदेश दिए. एकाएक रोक लगने से उर्वरक विक्रेताओं में हड़कंप मचा हुआ है.

ये भी पढ़ें-

सीएम योगी ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा- देश में संकट आएगा तो राहुल गांधी खड़े नहीं होंगे
महाराष्ट्र में सीएम योगी का ऐलान- श्रीराम की नगरी में होगी भव्य दिवाली

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)