इमरान ने PoK में रैली कर लोगों को भारत में घुसपैठ के लिए खुलेआम उकसाया

इमरान ने PoK में रैली कर लोगों को भारत में घुसपैठ के लिए खुलेआम उकसाया
इस्लामाबाद. जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) से अनुच्‍छेद-370 (Article-370) हटाने के मुद्दे पर दुनिया के किसी देश का साथ नहीं मिलने से पाकिस्‍तान (Pakistan) बुरी तरह बौखलाया हुआ है. पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) ने आज पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) की राजधानी मुजफ्फराबाद में कश्‍मीर मुद्दे (Kasmir Issue) को लेकर रैली की. इसमें उन्‍होंने भारत (India) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendr Modi) के खिलाफ जमकर जगह उगला. वह यही नहीं रुके और उन्‍होंने लोगों को इस्‍लाम (Islam) का वास्‍ता देकर भारत में घुसपैठ (Infiltration) के लिए खुलेआम उकसाया.

कहा - मैं आपको बताऊंगा कब LoC पर जाना है
इमरान ने कहा कि PoK के युवा नियंत्रण रेखा (LoC) की ओर बढ़ना चाहते हैं, लेकिन आप अभी वहां मत जाइए. मैं आपको बताऊंगा कि आपको वहां कब जाना है. पहले मुझे संयुक्‍त राष्‍ट्र (UN) जाने दो. दुनिया को कश्‍मीर के हालात के बारे में बताने दो. अगर उन्‍होंने कश्मीर का मसला हल नहीं किया तो इसका असर पूरी दुनिया पर जाएगा. हालांकि, PoK के राजनीतिक कार्यकर्ता (Political Activist) अमजद अयूब मिर्जा के मुताबिक, इमरान की रैली पूरी तरह फ्लॉप रही. रावलपिंडी और एबटाबाद के लोगों को ट्रकों में भर-भरकर मुजफ्फराबाद लाया गया था.

अब मुस्लिम कार्ड खेलने पर उतर आए हैं पाक पीएममिर्जा ने कहा कि PoK के लोगों ने इमरान की रैली का बहिष्कार किया. दुनिया को इसके लिए यहां के लोगों को बधाई देनी चाहिए. हताश इमरान अब मुस्लिम कार्ड (Muslim Card) खेलने पर उतर आए हैं. उन्‍होंने आरोप लगाया कि पीएम मोदी की योजना भारत से मुस्लिमों के नस्लीय सफाये की है. दुनियाभर के 1.2 अरब मुसलमान कश्मीर के हालात देख रहे हैं. रैली में उन्‍होंने झूठा दावा किया कि कश्मीर मुद्दा अब अंतरराष्ट्रीय मसला बन चुका है. पाकिस्तान को इस पर हर तरफ से समर्थन मिल रहा है.

इमरान ने कहा - UNGA में उठाऊंगा कश्‍मीर मुद्दा
इमरान ने कहा कि मैं संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के सामने जम्मू-कश्मीर में हो रहे अत्‍याचारों का मुद्दा उठाऊंगा. मैं कश्मीरियों को निराश नहीं करूंगा. प्रधानमंत्री मोदी की जर्मन तानाशाह हिटलर (Hitler) से तुलना करते हुए इमरान ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में नौ लाख भारतीय सैनिक (Indian Army Personnel) लोगों पर अत्याचार कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद से इमरान शुक्रवार को तीसरी बार PoK पहुंचे थे. एक तरफ पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादी आम कश्मीरियों की हत्या कर रहे हैं. दूसरी तरफ इमरान रैली कर लोगाें को घुसपैठ के लिए उकसा रहे हैं.
ये भी पढ़ें:

चिदंबरम की सरेंडर याचिका खारिज, 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में ही रहेंगे पूर्व वित्‍त मंत्री

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज की पाकिस्‍तान को चेतावनी, कहा - अभी और खराब होंगे आर्थिक हालात

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)