पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत 117 रुपये के पार, टूटा 13 साल का रिकॉर्ड

पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत 117 रुपये के पार, टूटा 13 साल का रिकॉर्ड
इस्लामाबाद:

तथ्यों की जांच करने वाली एक स्वतंत्र इकाई ने इस बात को सही पाया है कि पाकिस्तान में हाल के दिनों में पेट्रोल की कीमत उस ऊंचाई पर जा पहुंची, जहां वह पहले कभी नहीं पहुंची थी.

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के विपक्षी दल पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने बीते अगस्त महीने में बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर इमरान सरकार की आलोचना करते हुए यह दावा किया था कि देश में पेट्रोल की कीमत अब तक के सर्वाधिक स्तर पर पहुंच गई है.

पाकिस्तान में महंगाई की मार: पेट्रोल से भी महंगा बिक रहा है दूध

पाकिस्तान के एक स्वतंत्र थिंक टैंक पाकिस्तान इंस्टीट्यूट आफ लेजिस्लेटिव डेवलपमेंट एंड ट्रांस्पेरेंसी (पिलडैट) से सबंद्ध 'पाकिस्तान फैक्ट' ने बिलावल के इस दावे की जांच की. यह संस्था नेताओं और मीडिया के ऐसे तमाम दावों की तथ्यों के आधार पर जांच करती है.


'पाकिस्तान फैक्ट' ने अपनी जांच में पाया कि बिलावल की बात सही है. इसने अपनी वेबसाइट पर लिखा कि पाकिस्तान सरकार ने 31 जुलाई को अगस्त महीने के लिए पेट्रोलियम उत्पादों के दाम बढ़ाए. इसके बाद एक लीटर पेट्रोल (एल्ट्रान प्रीमियम) की कीमत 117.83 रुपये (पाकिस्तानी) यानी (53.44 भारतीय रुपये) तक पहुंच गई.

NASA's Mars 2020: नासा भेजेगा मंगल पर आपका नाम, बस करना होगा ये काम

'पाकिस्तान फैक्ट' ने पाकिस्तान स्टेट ऑयल (पीएसओ) के आंकड़ों के हवाले से बताया कि एक जनवरी 2006 से लेकर एक अगस्त 2019 के पहले तक कभी भी एक लीटर पेट्रोल की कीमत 117.83 रुपये तक नहीं पहुंची. यह कीमत एक अगस्त 2019 को दर्ज की गई और यह देश में पेट्रोल की अब तक की सर्वाधिक कीमत रही.

टिप्पणियां

VIDEO: सिंपल समाचार: पेट्रोल पर कितना टैक्स?


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from NDTV.)