Pak गृहमंत्री का कबूलनामा- इमरान सरकार ने आतंकी संगठनों पर खर्च किए करोड़ो

Pak गृहमंत्री का कबूलनामा- इमरान सरकार ने आतंकी संगठनों पर खर्च किए करोड़ो
इस्‍लामाबाद. जम्‍मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के  मुद्दे पर पूरी दुनिया के सामने मुंह की खाने वाले पाकिस्‍तान (Pakistan) ने आखिरकार मान लिया है कि उसकी धरती पर ही आतंकवाद पल रहा है. पाकिस्तान के गृह मंत्री ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह (Brig Ijaz Ahmed Shah) ने कहा कि इमरान सरकार (Imran Khan Government) ने आतंकी संगठन जमात-उद-दावा पर करोड़ों रुपये खर्च किए हैं. शाह ने कहा कि इमरान सरकार ने आतंकी संगठनों को मुख्यधारा में जोड़ने के लिए करोड़ों रुपये खर्च किए हैं. उन्होंने एक राष्ट्रीय न्यूज चैनल को इंटरव्यू देते हुए ये बात कही.

पाकिस्तान के न्यूज चैनल ‘हम न्यूज’ से बात करते हुए एजाज अहमद ने कहा कि आतंकवादी संगठनों के सदस्यों को अब मुख्यधारा में लाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि ये आतंकी संगठन उनके इशारे पर अफगानिस्तान में लड़ रहे थे. ये अब इमरान सरकार की जिम्मेदारी है कि उन आतंकियों को नौकरी और पैसे दे.

पाकिस्तान के गृह मंत्री ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह
पाकिस्तान के गृह मंत्री ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह


इमरान खान ने भी कबूल किया था सचइससे पहले, जुलाई में अमेरिका की यात्रा के दौरान इमरान खान ने स्वीकार किया था कि उनके देश में अभी भी 30,000 से 40,000 आतंकवादी मौजूद हैं. जिन्हें अफगानिस्तान और पाक अधिकृत कश्मीर के हिस्सों में ट्रेनिंग दी गई.

कश्मीर मुद्दे पर कोई नहीं दे रहा पाक का साथ
एजाज अहमद शाह ने ये भी कबूल किया है कि पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे पर दुनिया को अपने पक्ष में खड़ा नहीं कर पाया. इस मुद्दे पर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी है. इमरान खान सरकार अंतरराष्ट्रीय समुदाय को कश्‍मीर पर अपना रुख समझाने में नाकाम रही है. शाह यहीं नहीं रुके और उन्होंने प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी सरकार को देश की छवि खराब करने के लिए जिम्मेदार ठहराया.
'भारत को गंभीरता से लेता है अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय'
एजाज अहमद ने कहा कि कश्‍मीर के मामले में अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय को हम पर विश्वास ही नहीं है. जब हम कहते हैं कि भारत ने कश्मीर में कर्फ्यू लगाया है और वहां के लोगों को दवाएं नहीं दी जा रही हैं तो दुनिया हमारी बात पर विश्‍वास नहीं करती है. वहीं, अगर भारत कोई बात कहता है तो दुनिया उसे गंभीरता से लेते हुए भरोसा करती है. गृह मंत्री ने पाकिस्तान की छवि बिगाड़ने के लिए इमरान खान के साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो और पूर्व राष्‍ट्रपति परवेज मुशर्रफ को भी जिम्मेदार ठहराया.

कश्‍मीर पर पाकिस्‍तान ने मानी हार, गृह मंत्री ने कहा - दुनिया को साथ नहीं ला पाई इमरान सरकार

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)