दिल्ली: ऑड-ईवन के दौरान बदल सकती है ऑफिस टाइमिंग, सरकार कर रही है विचार

दिल्ली: ऑड-ईवन के दौरान बदल सकती है ऑफिस टाइमिंग, सरकार कर रही है विचार
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने 4 से 15 नवंबर तक लागू होने वाले ऑड-ईवन स्कीम (Odd-Even Scheme) में इस बार महिलाओं (Women) को छूट देने का ऐलान किया है. केजरीवाल ने महिला सुरक्षा (Women Security) को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया है. इसके साथ ही केजरीवाल सरकार ऑड-ईवन के दौरान दफ्तरों की टाइमिंग में भी फरेबदल करने पर विचार कर रही है.  हालांकि, अभी तक इस पर निर्णय नहीं लिया है. इस बार के ऑड-ईवन स्कीम में केजरीवाल सरकार निजी सीएनजी (CNG) वाहनों को छूट नहीं देने का निर्णय लिया है. दिल्ली के सीएम अरिवंद केजरीवाल ने कहा है कि पिछली बार छूट के दौरान सीएनजी वाहन स्टीकर के बड़े पैमाने पर दुरूपयोग को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है. अभी तक दोपहिया वाहन पर भी कोई निर्णय नहीं लिया गया है, हालांकि ऑड-ईवन उन पर लागू होने की संभावना से सीएम ने इंकार किया है.

ऑड-ईवन के दौरान दो हजार अतिरिक्त बसें चलेंगी

शनिवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'पिछले तीन-चार दिनों में दिल्ली में प्रदूषण बढ़ना शुरू हो गया है. सीएम ने कहा कि पिछले तीन माह से दिल्ली में प्रदूषण पर लगाम था, लेकिन पड़ोसी राज्यों में प्रदूषण बढ़ने से दिल्ली की हवा प्रदूषित होने लगी है. दिल्ली के प्रदूषण को कम करने के लिए केंद्र सरकार को जरूरी कदम उठाने चाहिए.

Arvind Kejriwal
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को इस बात की घोषणा की. (फाइल फोटो)
ऑड-ईवन के दौरान उबर के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए जाएंगे. इस दौरन अतिरिक्त शुल्क वसूली पर इन कंपनियों पर कार्रवाई होगी. ऑड-ईवन के दौरान एप आधारित टैक्सी संचालकों की मनमानी की शिकायत आती है. इस बार ऐसा नहीं होगा. इसके लिए उबर के अधिकारियों के साथ बैठक हो चुकी है. उन्हें बता दिया गया है कि किसी भी कीमत पर डेढ गुना से ज्यादा कीमत की वसूली नहीं हो सकती है. साथ ही सर्च प्राइसिंग न करने के निर्देश दिए हैं.

कार पूलिंग को बढ़ावा देने की अपील

सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि ऑड इवन के दौरान सार्वजनिक वाहनों पर एक समय दबाव न बने इसके लिए दफ्तरों के समय बदलने पर विशेषज्ञों से बात चल रही है. जल्द ही इसे तय कर लिया जाएगा. सीएम ने कहा कि ऑड इवन के दौरान कार पुलिंग को बढ़ावा दें. दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ कार पुलिंग करें. इससे प्रदूषण भी कम होगा और रिश्ते भी ठीक होंगे.
parali burning in haryana, farmers, parali burning in Punjab, Stubble burning, pollution in delhi, agriculture, हरियाणा में पराली जलाने के मामले, किसान, पंजाब, पराली, दिल्ली में प्रदूषण, कृषि, धान की फसल, Paddy Crop, पेड्डी स्ट्रा चोपर, Paddy Straw Chopper Machine, दिल्ली में वायु प्रदूषण, Delhi Air Pollution
किसानों से की पराली न जलाने की अपील की जा रही है (File Photo)


जुर्माने पर जल्द होगा निर्णय

सीएम ने कहा कि अब नया परिवहन नियम लागू हो गया है. इस कारण जुर्माने को रिवाइज किया जा रहा है. सीएम ने कहा कि हमारा मकसद जुर्माना लगाना नहीं है. पहले कोई ऑड-ईवन का पालन नहीं करता पाया गया तो उसे समझाया जाएगा और वापस कर दिया जाएगा.

बता दें कि नवंबर में दिल्ली के आस-पास के राज्यों में पराली जलाई जाती है. इस वजह से दिल्ली गैस चैंबर बन जाता है. इसी को घ्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार की ओर से एक व्यापक पराली और शीतकालीन कार्य योजना बनाई गई. इसी के तहत ऑड ईवन योजना की घोषणा की गई थी. ऑड-ईवन योजना के तहत, सरकार सम विषम नंबर के वाहनों के उपयोग का दिन तय करती है. यह कदम उस अवधि में हवा में वाहनों के उत्सर्जन को सीमित करने के उद्देश्य से उठाया जाता है.

छूट इनको मिलेगा

जिस वाहन में सिर्फ महिलाएं हो
जिस वाहन में महिला के अलावा 12 वर्ष से कम उम्र के कोई भी बच्चे हों.
पिछली बार दो पहिया वाहनों को मिली थी छूट. इस बार भी छूट की संभावना है.

ये भी पढ़ें: 

गुजरात: सर क्रीक से 7 दिन में दूसरी बार 5 पाकिस्तानी बोट जब्त, एजेंसियों की उड़ी नींद
हरियाणा विधानसभा चुनाव: कभी सरकार बनाने का दावा ठोका था, अब चुनाव प्रचार के लिए भी वक्त नहीं!


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)