नई मुलाकात, नई शुरुआत: पीएम मोदी - शी जिनपिंग की मुलाकात से घबराया पाकिस्तान

नई मुलाकात, नई शुरुआत: पीएम मोदी - शी जिनपिंग की मुलाकात से घबराया पाकिस्तान

चेन्नई: महाबलीपुरम (Mahabalipuram) में आज दुनिया के दो बड़े नेताओं का महामिलन हुआ. पीएम मोदी (PM Narendra Modi)  चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping)  का स्वागत करने तमिलनाडु के पारंपरिक ड्रेस में पहुंचे. दुनिया ने पीएम मोदी को पहली बार इस तरह देखा. गर्मजोशी से दोनों के बीच मुलाकात हुई और फिर बेहद दोस्ताना अंदाज में संस्कृति की उस विरासत के बीच जिनपिंग टहलते रहे जिससे चीन का सदियों पुराना रिश्ता रहा है. 

आज पीएम मोदी और जिनपिंग जैसे-जैसे एक एक कदम बढ़ा रहे थे, पाकिस्तान की धड़कनें तेज हो रही थीं. आज जब जब जिनपिंग और मोदी के चेहरे पर गंभीरता आती पाकिस्तान की चिंता बढ़ जाती थी कि न जाने दोनों नेता किस गंभीर मुद्दे पर बातचीत कर रहे हैं. पाकिस्तान जानता है कि हिंदुस्तान के लिए सबसे गंभीर समस्या आतंकवाद है. पाकिस्तान ये भी जानता है कि आतंकवाद और जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर अकेला पड़ने के बाद उसके पास चीन के अलावा कोई सहारा नहीं. पाकिस्तान के लिए चीन ही उसका सबसे बड़ा हिमायती है लेकिन आज उसी चीन के राष्ट्रपति हिंदुस्तान के मेहमान बने हैं.

LIVE टीवी:

एयरपोर्ट पर शी जिंनपिंग का शानदार स्वागत पाकिस्तान के कलेजे को जलाने वाला था. शी जिनपिंग जब अपने विमान से बाहत उतरे तो उनके सामने हिंदुस्तान की वो संस्कृति और खूबसूरती की झलक थी जो हमारे देश का शान है. शी जिनपिंग जब एयरपोर्ट से बाहर आ रहे थे तो उनके मन में महाबलीपुरम को देखने का उत्साह था तो वहीं एयरपोर्ट के बाहर हिंदी चीनी भाई भाई को साबित करती कई तस्वीरें थे. बच्चों के हाथों में हिंदुस्तान और चीन के झंडे थे । मोदी और जिनपिंग की तस्वीरों वाला प्लेकार्ड था. 

हिंदुस्तान पहुंचने के बाद भी राष्ट्रपति जिनपिंग आज उस शहर में थे जहां से चीन का कारोबार होता रहा है. चीन पर इस मुलाकात की खास वजह चीन के राष्ट्रपति को ये एहसास कराना ही था कि एक महान अतीत की तरह ही दोनों देश एक खूबसूरत इतिहास को गढ़ सकते हैं.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)