सूप और कॉफी में सायनाइड मिलाकर इस महिला ने परिवार के 6 लोगों को मारा

सूप और कॉफी में सायनाइड मिलाकर इस महिला ने परिवार के 6 लोगों को मारा
नई दिल्‍ली. केरल (Kerala) के कोझिकोड (kozhikode) की एक महिला पर 14 साल के अंदर सायनाइड के जरिये अपने 6 परिवारवालों की हत्‍या करने का आरोप है. आरोपी महिला जॉली एम्‍मा जोसेफ ने अपने परिवारवालों को एक-एक करके खाने में सायनाइड मिलाकर मार डाला था.

विशेष जांच दल (SIT) के अनुसार जांच में पता लगता है कि आरोपी महिला जॉली अम्मा जोसेफ ने दो और बच्चों को मारने की योजना बनाई थी. ये दोनों बच्चे उसके परिवार के काफी करीबी थे. ये हत्‍याएं संपत्ति को लेकर की गई थीं. एसआईटी की टीम के मुताबिक उनके पास कुछ ऐसे सबूत हैं, जिससे पता चलता है कि आरोपी महिला जॉली ने कुछ और लोगों की भी हत्या की योजना तैयार की थी. कोझिकोड के ग्रामीण एसपी केजी साइमन ने कहा कि इन हत्याओं से जुड़े निष्कर्ष पर पहुंचना जल्दबाजी होगी. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में सात और लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा.

संदिग्ध परिस्थिति में मौत का सिलसिला साल 2002 में 57 साल अनम्मा की मौत के साथ शुरू हुआ था. अनम्‍मा जॉली की सास थी. अनम्‍मा की मौत मटन सूप पीने के तुरंत बाद हुई थी. इसे जॉली ने तैयार किया था. जॉली पर आरोप है कि उसने सूप में सायनाइड मिलाया था.

इसके बाद जॉली के ससुर टॉम थॉमस की मौत इससे मिलती जुलती घटना में 2008 में हुई थी. इसके बाद 2011 में जॉली के पति रॉय थॉमस की हत्‍या बाथरूम में हुई थी. जांच में उसके शरीर के अंदर सायनाइड की मौजूदगी मिली थी. पुलिस जांच में उसकी मौत सुसाइड लगी थी. इसके बाद रॉय के मामा मैथ्‍यू मंजादियिल ने उसकी मौत की जांच की मांग की थी.2014 में मैथ्‍यू की भी मौत हो गई थी. पुलिस ने जॉली पर उन्‍हें जहरीली कॉफी पिलाकर हत्‍या का आरोप लगाया. 2014 में ही अलपाइन शाजू नामक बच्‍चे की भी मौत हुई. 2016 में अलपाइन की मां सिली शाजू की भी मौत हो गई. उसे जॉली से पीने के पानी में सायनाइड मिलाकर दिया था. पुलिस ने इन मामलों के बाद किसी भी तरह की जानकारी देने से मना कर दिया है. उसका कहना है कि जांच अब भी जारी है.

परिवार में मौत के सिलसिले के बीच जॉली ने शाजू स्कारिया से दूसरी शादी कर ली. इसके बाद टॉम के टाम के बेटे को रोजो को जॉली पर शक हुआ. जिसके बाद मामले की जांच एसआईटी से कराई गई.

मामले की जांच कर रहे एसपी ने बताया कि हमें जांच में पता चला है कि जॉली हर उस शख्स के पास मौजूद थी, जिसकी हत्या की गई थी. जॉली ने ये सभी हत्या संपत्ति हासिल करने के लिए की थी. आरोपी महिला ने संपत्ति हासिल करने के लिए फर्जी दस्तावेजों का भी सहारा लिया था. बता दें कि जॉली और अन्य आरोपियों ने मिलकर पिछले 14 साल के अंदर छह लोगों को सायनाइड देकर मार डाला था.
पुलिस के मुताबिक आरोपी महिला जॉली जोसेफ ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. फिलहाल तीनों आरोपियों के खिलाफ जॉली के पति रॉय थॉमस की हत्या के आरोप में मामला दर्ज कर लिया गया है. बाकी हत्याओं के मामले में पुलिस जांच कर रही है. एसआईटी की टीम ने कहा है कि इस मामले के खुलासे के लिए वह कुछ और अधिकारियों को शामिल कर सकती है. साथ ही केरल पुलिस देश में 'ट्रेस एनालिसिस' के लिए प्रयोगशालाओं की मदद लेगी और जरूरत पड़ने पर विदेशी प्रयोगशालाओं से भी संपर्क करेगी.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)