सिंधिया ने फिर CM कमलनाथ को घेरा, बोले- अब तक किसानों का पूरा कर्ज नहीं हुआ माफ

सिंधिया ने फिर CM कमलनाथ को घेरा, बोले- अब तक किसानों का पूरा कर्ज नहीं हुआ माफ

ग्वालियरः कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने एक बार फिर अपनी ही सरकार पर सवाल उठाए हैं. पूर्व में अपनी ही पार्टी (Congress) को आत्मावलोकन की नसीहत दे चुके सिंधिया का कहना है कि मध्य प्रदेश की वर्तमान सरकार ने अभी तक किसानों का पूरा कर्ज माफ नहीं किया है. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि 'किसानों का जो कर्जा माफ हुआ है, वह पूर्ण रूप से नहीं हुआ है. केवल 50 हजार का कर्ज माफ हुआ है, जबकि सरकार ने 2 लाख तक का कर्ज माफ करने का वादा किया था. इसलिए किसानों का पूरा दो लाख का कर्ज माफ होना चाहिए.'

बता दें सिंधिया गुरुवार को भिंड पहुंचे थे, जहां वह कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. इसी दौरान किसानों की कर्ज माफी के मुद्दे पर बात करते हुए सिंधिया ने सरकार के कर्ज माफी के वादे पर सवाल उठाते हुए पूर्ण कर्जमाफी नहीं होने की बात कही. हालांकि, यह पहली बार नहीं है, जब सिंधिया ने कर्जमाफी पर सवाल खड़े किए हैं.

देखें LIVE TV

वहीं सिंधिया के बयान के बाद अब बीजेपी ने कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. नरोत्तम मिश्रा ने कहा जो लोग मेरे घर और शिवराज जी के घर कर्ज माफी की फाइलों का गठ्ठा अपने सिर पर रखकर लाए थे. मैं उनसे पूछना चाहता हुं क्या वो लोग अब सिंधिया जी के घर जाएंगे कर्ज माफी के सबूत लेकर.

MP: आदिवासियों की इस तकनीक के सहारे कमलनाथ सरकार ने बनाया नोबल अवार्ड जीतने का प्लान

वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी मुख्यमंत्री कमलनाथ का सड़क पर बैठने वाले आवारा पशुओं को लेकर ध्यान आकर्षित कराया है. दिग्विजय सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट पर सड़क पर बैठी गायों की एक फोटो शेयर की है और लिखा कि, 'यदि कमल नाथ जी आपने तत्काल ऐंसा कर के दिखा दिया तो आप सच्चे गौ भक्तों में गिने जायेंगे, और तथा कथित भाजपाई नेताओं को नसीयत मिलेगी.' 

मध्य प्रदेशः कर्ज माफ न होने से बढ़ी किसानों की परेशानी, नए ऋण के लिए काट रहे बैंक के चक्कर

एक दूसरे ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने कहा कि, 'यह चित्र है भोपाल इंदौर हायवे का जहॉं आवारा गऊ माता बैठी रहती हैं और लगभग हर दिन ऐक्सिडेंट में मर जाती हैं. कहां हैं हमारे गौ माता प्रेमी गौ रक्षक? मप्र शासन को तत्काल इन आवार गौ मात को सड़कों से हटा कर गौ अभ्यरण या गौ शालाओं में भेजना चाहिए.'


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)