ईरान की महिलाओं के लिए ऐतिहासिक दिन, दशकों बाद देखा फुटबॉल मैच

ईरान की महिलाओं के लिए ऐतिहासिक दिन, दशकों बाद देखा फुटबॉल मैच

तेहरान: ईरान (Iran) में महिलाओं पर शुरुआत से ही काफी कड़ी पाबंदियां लगाई गई हैं जो कि उनके धर्म मुताबिक मुनासिब हैं. एक पाबंदी ये भी है कि उन्हें फुटबॉल मैच जैसा कोई भी खेल देखने की अनुमति नहीं दी जाए, क्योंकि मौलवियों के दिए तर्कों के मुताबिक किसी भी पुरुष को अर्द्धनग्न देखना या किसी भी पुरुष प्रधान माहौल में किसी भी महिला की मौजूदगी इस्लाम में हराम है.

इसके बावज़ूद ईरान में दशकों बाद हजारों महिलाओं को एक फुटबॉल (Football) मैच देखने का मौका मिला. तेहरान के आजादी स्टेडियम में गुरुवार को करीब 3500 महिलाओं ने ईरान की फुटबॉल टीम को खेलते हुए देखा.

फीफा विश्व कप (Fifa Worldcup) क्वालीफायर के इस शानदार मैच में ईरान ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कंबोडिया (Cambodia) को 14-0 से पराजित किया.

बीबीसी के रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं को स्टेडियम में बने विशेष सेक्शन में बैठाया गया. स्टेडियम की कुल क्षमता 78,000 दर्शकों की है. फोटो में देखा गया कि उत्साहित ईरान की महिलाएं अपने देश के झंडे लहरा रही थीं.

एक महिला ने ट्विटर पर लिखा, "हमने तीन घंटे खूब मस्ती की. हम सब हंसे, हममें से कुछ को रोना भी आया क्योंकि हम सब बहुत खुश थे. हमें अपने जीवन में यह अनुभव काफी बाद में मिला, लेकिन मैं उन कम उम्र की लड़कियों के लिए खुश हूं जो आज स्टेडियम में आई."

एक बयान में फीफा के अध्यक्ष गियानी इन्फेटिंनो ने कहा, "यह एक बहुत सकारात्मक कदम है. इसका फीफा और खासकर ईरान की लड़कियों एवं महिलाओं को बेसब्री से इंतजार था." महिला सशक्तिकरण को ध्यान में रखते हुए उठाया गया यह कदम वास्तव में तारीफे काबिल है.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)