टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को दूसरी बार खिलाया फॉलोऑन, बनी दुनिया की ऐसी इकलौती टीम

टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को दूसरी बार खिलाया फॉलोऑन, बनी दुनिया की ऐसी इकलौती टीम

नई दिल्ली: रांची में चल रहे भारत और दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने एक बार फिर इतिहास रच दिया हैत. 497 रन के जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 162 रन पर सिमट गई. इससे टीम इंडिया को पहली पारी में कुल 335 रन की अहम बढ़त मिल गई. इसके बाद विराट ने दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन खेलने को कहा. भारत ही इकलौती ऐसी टीम है जिसने दक्षिण अफ्रीका को दो बार फॉलोऑन खिलाया है. 

दूसरे सत्र में सिमटी अफ्रीकी पारी
दूसरे सत्र में टीम के 8 विकेट गिरने के बाद जार्ज लिंडे ने दक्षिण अफ्रीका के लिए संघर्ष किया जॉर्ड लिंडे और एनरिच नोर्त्जे ने मिलकर अपनी टीम का स्कोर 150 के पार कराया. लेकिन इस जोड़ी ने केवल कुछ समय लिया. एक बार फिर उमेश यादव ने टीम इंडिया को ब्रेक थ्रू  दिलाया और जॉर्ड लिंडे (37) को स्लिप पर कैच कराकर मेहमान टीम का 9वां विकेट गिराया. इसके अगले ओवर में शहबाज नदीम ने एनरिच नॉर्त्जे को एलबीडब्ल्यू आउट कर अफ्रीकी टीम की पारी का अंत कर दिया. 

दूसरे सत्र की शुरुआत में ही गिराए दो और विकेट
लंच से पहले छह विकेट गंवा चुकी दक्षिण अफ्रीका के लिए फॉलोऑन बचाना मुश्किल लग रहा था. सत्र की पहली सफलता लंच के बाद पहले ही ओवर में मोहम्मद शमी ने डेन पीट को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. इसके अगले ओवर में ही उमेश यादव ने सीधे थ्रो से कगीसो रबाडा को रन आउट कर दिया जिससे अफ्रीकी टीम के 8 विकेट 130 के स्कोर पर ही गिर गए. 

पारी की शुरुआत ही रही बहुत खराब
दक्षिण अफ्रीका की मुसीबतें तभी से शुरू हो गई थीं जब दूसरे दिन के आखिरी सत्र में उसने अपनी पहली पारी की शुरुआत की. पारी के पहले ही ओवर में डीन एल्गर बिना खाता खोले ही मोहम्मद शमी की गेंद पर आउट हो गए. इसके अगले ही ओवर में उमेश यादव ने क्विंटन डिकॉक को भी आउट कर टीम को संकट में डाल दिया. खराब रोशनी की वजह से पांच ओवर के बाद ही दूसरे दिन का खेल खत्म करना पड़ा. लेकिन मेहमान टीम की मुसीबतें कम नहीं हुईं. 

तीसरे दिन भी हुआ वही
तीसरे दिन का खेल शुरू होने पर भी दक्षिण अफ्रिकी टीम की कहानी दोहराती दिखाई दी. दिन के पहले ओवर में उमेश ने फाफ डु प्लेसिस को शानदार गेंद पर बोल्ड कर दक्षिण अफ्रीका को संकट में डाल दिया. 16 रन के स्कोर पर तीन अहम विकेट खो चुकी टीम को जुबैर हमजा और टेम्बा बवुमा ने संकट से उबारते हुए 91 रन की साझेदारी की, लेकिन हजमा (63) के आउट होते ही विकेट गिरने का सिलसिला फिर शुरु हुआ. अगले ही ओवर में नदीम ने बवुमा को विकेट लेकर टीम को फिर संकट में डाल दिया और फिर रही सही कसर जडेजा ने क्लासेन को बोल्ड कर लंच से पहली ही टीम के छह विकेट गिरा दिए. 


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)