मोटे लोगों का दिमाग जल्दी होता है बूढ़ा और कमजोर: स्टडी

मोटे लोगों का दिमाग जल्दी होता है बूढ़ा और कमजोर: स्टडी
मॉडर्न लाइफस्टाइल और ऑफिस जाने की जल्दी में कई बार हम अपने खानपान तक पर ध्यान नहीं दे पाते हैं. इसकी वजह से कई बार सेहत संबंधी कई परेशानियां हमें घेर लेती हैं जिसका अंदाजा भी हमें नहीं हो पाता है. गलत खानपान का ही नतीजा है मोटापा भी. मोटापा देखा जाए तो कोई बीमारी नहीं है लेकिन यह कई बीमारियों की वजह बन सकता है. मोटापे की वजह से हमारी याददाश्त और मष्तिष्क की क्षमता भी प्रभावित होती है. कुछ समय पहले हुए एक शोध में यह खुलासा हुआ कि मोटापा दिमाग के जल्दी बूढ़ा होने की वजह बनता है.

इसे भी पढ़ें: अंक भी करते हैं चमत्कार! क्या बदल कर रख देते हैं भाग्य?
इस सिलसिले में फ्लोरिडा के मियामी यूनिवर्सिटी में मिलर स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं के एक समूह ने इस विषय पर अध्ययन किया और इसके नतीजे को 'न्यूरोलॉजी जर्नल' में छापा गया. इस शोध के मुताबिक़, ज्यादा मोटापा हमारे बॉडी मॉस इंडेक्स  (BMI)  के सेरेब्रल कॉर्टेक्स के कोर्टिकल थिनिंग से जुड़ा हुआ है.

इसे भी पढ़ें: पेट की चर्बी छुपाने में मदद करेंगे ये कपड़ेइस अध्ययन में शामिल को-राइटर डॉ, तटजाना रंडेक ने इस बारे में बात करते हुए जानकारी दी कि चौड़ी कमर वाले और हाई बीएमआई वाले लोगों के दिमाग के कोर्टेक्स के पतले होने की संभावना अधिक होती है, इसे सीधे शब्दों में कहा जाए तो मोटापे की वजह से दिमाग के ग्रे मैटर में कमी होती देखी गई है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)