करतारपुर में पकड़ी गई हरियाणा की लड़की, FB फ्रेंड से शादी करने पाक जा रही थी

करतारपुर में पकड़ी गई हरियाणा की लड़की, FB फ्रेंड से शादी करने पाक जा रही थी
अमृतसर. हर प्रेम कहानी का अंत सुखद नहीं होता. ऐसा ही कुछ हुआ हरियाणा (Haryana) की एक लड़की के साथ. हरियाणा की मंजीत कौर करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के रास्ते पाकिस्तान अपने फेसबुक फ्रेंड (Facebook Friend) से शादी करने के लिए पहुंच गई थीं.

इसके लिए उन्होंने एक श्रद्धालु (Pilgrimage) की तरह पाकिस्तान में प्रवेश किया था. वे पाकिस्तान में रहने वाले अपने फेसबुक फ्रेंड अवैस मुख्तार से मिलने के लिए वे वहां जा रही थीं. लेकिन वे पाकिस्तान (Pakistan) के अंदर प्रवेश नहीं कर पाईं. पाकिस्तान में प्रवेश से पहले ही पाकिस्तानी सिक्योरिटी ने उन्हें पकड़ लिया. इस दौरान वे गुरद्वारे के अहाते से पाकिस्तान में घुसने के प्रयास में थीं.

'भारत वापस जाने से कर दिया मना, पकड़ ली बॉयफ्रेंज के साथ गुजरावालां जाने की जिद'
एक खूफिया सूत्र के मुताबिक अवैस मुख्तार, जो कि गुजरांवाला का रहने वाला है, वह भी गुरुद्वारे के अहाते में एक महिला के साथ आया हुआ था. बताया जा रहा है कि यह महिला उसके एक मित्र की पत्नी थी. वे पाकिस्तान की ओर से करतारपुर गुरुद्वारे के अहाते में आकर वहीं खड़े थे, जब करतारपुर कॉरिडोर के जरिए गुरुदासपुर की ओर से मंजीत कौर डेरा बाबा नानक (Dera Baba Nanak) की ओर से उधर गईं.पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक मंजीत और अवैस पहली बार गुरुद्वारा दरबार साहिब की पहली मंजिल पर देखे गए. सूत्रों ने बताया, "उनका प्लान था कि वे मंजीत कौर को अवैस के साथ आई महिला के एंट्री कार्ड पर पाकिस्तान में लेकर चले जाएंगे. लेकिन जब उन्होंने सिक्योरिटी के उस पार जाने का प्रयास किया. सुरक्षाकर्मियों को शक हुआ और उन्होंने उन्हें रोक लिया. लेकिन कौर ने भारत वापस जाने से मना कर दिया और अपने बॉयफ्रेंड के साथ गुजरावालां जाने की जिद पकड़ ली." सूत्रों ने यह भी बताया कि मंजीत को वापस भारत भेज दिया गया है. अवैस को पाकिस्तानी रेंजर्स (Pakistan Rangers) ने हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

बायोमीट्रिक स्कैन के बाद ही जा सकते हैं पाकिस्तान के अंदर
सूत्रों ने बताया है कि कोई भी जो गुरुद्वारे के अहाते में पाकिस्तान की ओर से घुसता है उसे एक एंट्री कार्ड इश्यू किया जाता है और उसे बायोमीट्रिक (Biometric) स्क्रीनिंग के बाद ही आगे बढ़ने दिया जाता है.
एक सूत्र ने बताया कि हैरान करने वाली बात है कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने इस घटना के बारे में भारत की ओर बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स से अपना विरोध नहीं जाहिर किया है, हालांकि यह बार-बार हो रहा है. 2018 में बठिंडा की महिला टीना शर्मा, जो कि दो बच्चों की मां थी, उसने अटारी बॉर्डर (Attari Border) की ओर से पाकिस्तान में प्रवेश कर लिया था. वह अपने प्रेमी सुलेमान शेख से शादी करना चाहती थी. वह गुजरावालां में रह रही है, जो कि गुरुदासपुर से 100 किमी दूर है. टीना ने इस्लाम कुबूल कर लिया है और पाकिस्तान में आएशा बीबी बन गई हैं.

यह भी पढ़ें: उस पवन जल्लाद की कहानी, जो देगा निर्भया गैंगरेप-मर्डर कांड के दोषियों को फांसी

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)