गुना में 3 मासूम बच्चों और एक महिला की डूबकर मौत

गुना में 3 मासूम बच्चों और एक महिला की डूबकर मौत
गुना. जिले के खेरखेड़ी गांव में शनिवार का दिन मनहूसियत भरा रहा. दरअसल, शनिवार को खेरखेड़ी तालाब में नहाने गए 3 बच्चों की डूबकर मौत हो गई. घटना के समय मौके पर मौजूद एक महिला भी इन बच्चों को बचाने तालाब में कूद पड़ी, मगर वह नाकाम रही. गांव में हुए इस हादसे से लोग गमगीन हैं. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. वहीं स्थानीय विधायक और प्रदेश सरकार में मंत्री जयवर्धन सिंह (Jaivardhan Singh) ने दर्दनाक हादसे पर अफसोस जताया है.

बच्चों की चीख पर कूद पड़ी महिला
आरोन थाना क्षेत्र के खेरखेड़ी गांव में इस दिल दहला देने वाली घटना से आसपास के लोग हतप्रभ हैं. स्थानीय लोगों ने बताया कि तीनों मासूम बच्चे खेरखेड़ी तालाब में नहाने गए थे. घाट के पास से उतरने के बाद उन्हें तालाब की गहराई का अंदाजा नहीं लग पाया. पानी में कुछ ही दूर जाने पर अचानक तीनों बच्चे डूबने लगे. बच्चों की चीख-पुकार सुनकर पास ही में मौजूद सीमा बाई, तालाब की और दौड़ पड़ी. लोगों ने बताया कि बच्चों को बचाने के लिए सीमा ने तालाब में छलांग लगा दी. लेकिन देखते ही देखते सीमा समेत तीनों बच्चे तालाब के गहरे पानी में डूब गए. मृतकों में 8 साल की मोटू प्रजापति, उसका सगा भाई करण (6 साल), अंकित प्रजापति (10 साल) और सीमा बाई शामिल हैं.

पुलिस ने शुरू की जांचखेरखेड़ी गांव में हुए हादसे के तुरंत बाद सूचना पर पुलिस पहुंची. मौके पर पहुंचे एसपी राहुल लोढ़ा ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है. तीनों बच्चे तालाब की ओर खुद गए थे या इस घटना के पीछे किसी की साजिश है, सबका पता लगाया जा रहा है. इधर, हादसे की सूचना मिलने पर स्थानीय विधायक और मंत्री जयवर्धन सिंह ने अफसोस जताया है. सिंह ने पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया है.

ये भी पढ़ें -

दिवाली तोहफाः प्रॉपर्टी में महिलाओं को पार्टनर बनाएंगे तो सिर्फ 1100 रुपए में होगी रजिस्ट्री
सतना टाइगर सफारी से आई Good News; पेंच में 'सुपर-मॉम' दिखा रही जलवा

मध्यप्रदेश: खराब सड़क देखकर खुद ही गड्ढों को भरने में जुट गया ट्रक ड्राइवरग

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)