दिवाली से पहले 6 करोड़ नौकरीपेशा लोगों के इस खाते में आएगा ज्यादा पैसा

दिवाली से पहले 6 करोड़ नौकरीपेशा लोगों के इस खाते में आएगा ज्यादा पैसा
नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees' Provident Fund Organisation) ने दिवाली से ठीक पहले 6 करोड़ लोगों को खास तोहफा देना शुरू कर दिया है. दरअसल, EPFO ने इन 6 करोड़ नौकरीपेशा लोगों के खाते में ब्याज दर भेजना शुरू कर दिया है. कई प्रोविडेंट फंड खाताधारकों के खाते में ईपीएफओ ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 8.65 फीसदी की दर से ब्याज भेजना शुरू कर दिया है. ईपीएफ खाताधारकों (EPF Accounholders) को कुल रकम देने पर EPFO की खजाने पर करीब 54,000 करोड़ रुपये का बोझ आएगा. बता दें कि मौजूदा समय में ईपीएफओ के पास कुल 11 लाख करोड़ रुपये का फंड है, जिसपर उसे ब्याज देना है. पिछले साल के मुकाबले इस साल इन पीएफ खातों पर 10 आधार ज्यादा की दर से ब्याज दर आएगा. पिछले साल यह ब्याज दर 8.55 फीसदी था.

कैसे चेक करें पीएफ खाते का बैलेंस
अगर आप भी अपने EPF खाते का बैलेंस चेक करना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास 4 तरीके है— EPFO पोर्टल, UMANG ऐप, मिस्ड कॉल और SMS सेवा. पहले दो विकल्प की मदद से आप अपने पीएफ पासबुक (PF Passbook) की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: ATM से पैसे निकालने और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने वालों के लिए बड़ी खबर, RBI ने बदला ये नियम  


EPFO


>> EPFO पोर्टल से अपने PF पासबुक के लिए आप EPFO की आधिकारिक साइट पर जाकर यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) और पासवर्ड की मदद से लॉग इन कर सकते हैं. इसके बाद अब View Passbook पर क्लिक करने के बाद आपको पूरा पासबुक देख सकेंगे. यहां आप अपने पासबुक को डाउनलोड या ​​प्रिंट भी कर सकते हैं.

>> अगर आप UMANG ऐप की मदद से आप अपना पीएफ बैलेंस चेक करना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने स्मार्टफोन पर 'एम्प्लॉई सेंट्रिक सर्विसेज' पर​ क्लिक करना होगा. इसके बाद आपको View Passbook के विकल्प पर क्लिक करना होगा. इसके बाद आपको UAN नंबर और OTP की मदद लॉग इन करना होगा. इस लॉग इन के बाद आप आसानी ईपीएफ पासबुक देख सकते हैं.

>> आप चाहें तो 7738299899 पर SMS भेज कर भी अपने EPF खाते का बैलेंस पता कर सकते हैं. वहीं, 011—11901046 पर मिस्ड कॉल के बाद भी आप ईपीएफ खाते के बैलेंस के बारे में पता कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: अगले हफ्ते भी एक दिन ज्यादा बंद रहेंगे बैंक! फटाफट चेक करें RBI की ओर से जारी छुट्टियों की लिस्ट

ब्याज दरों में देरी से खाताधारकों को हुआ नुकसान
गौरतलब है कि फरवरी माह में ही श्रम मंत्रालय द्वारा घोषणा के बाद भी वित्त मंत्रालय से मंजूरी न मिलने की वजह से पीएफ खातों में ब्याज दर जमा करने में देरी हुई. पीएफ ब्याज दरों में इस देरी से सभी खाताधारकों को नुकसान हुआ है. दरअसल, ब्याज दर जमा न होने की वजह से उन्हें इसपर कम्पाउंड इंटरेस्ट नहीं मिल सकेगा.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)