ईडी ने प्रतीक्षारत चल रहे आईएएस अफसर अभय से की लंबी पूछताछ, किए कई सवाल

ईडी ने प्रतीक्षारत चल रहे आईएएस अफसर अभय से की लंबी पूछताछ, किए कई सवाल

लखनऊ: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को प्रतीक्षारत चल रहे आईएएस अफसर अभय से लंबी पूछताछ की. जानकारी के मुताबिक उनसे खनन पट्टों के आवंटन के अलावा निजी संपत्तियों के स्रोत के बारे में जानकारी मांगी गई है. आईएएस (IAS) अभय गुरुवार को देर शाम ईडी के दफ्तर पहुंचे थे. बुलंदशहर के जिलाधकारी रहते हुए सरकारी आवास पर सीबीआई (CBI) के छापों के बाद प्रदेश सरकार ने उन्हें पद से हटाकर प्रतीक्षारत कर दिया था. खनन में भ्रष्टाचार (corruption) समेत अन्य आरोपों में सीबीआई की तरफ से दर्ज किए गए मुकदमे को आधार बनाकर ईडी (ED) ने भी उन पर मनी लांड्रिंग (Money laundering) का मुकदमा किया था. गौरतलब है कि सीबीआई और शासन के नियुक्ति विभाग से हासिल दस्तावेजों के आधार पर ईडी ने उन्हें गुरुवार को पूछताछ के लिए अपने लखनऊ स्थित जोनल कार्यालय में बुलाया था.

सूत्रों के अनुसार ईडी (ED) ने सबसे पहले सीबीआई छापे में उनके सरकारी आवास से बरामद नकद 47 लाख रुपये के संबंध में सवाल किए. इसके बाद खनन पट्टों को मंजूरी देने के संबंध में सवाल किए गए. आपको बता दें कि खनन का प्रकरण पूवर्वती सपा सरकार (SP Government) के कार्यकाल का है. आईएएस अभय उस समय फतेहपुर जिले के डीएम थे. खनन पट्टों का मंजूरी देने का विवाद फतेहपुर जिले से ही संबंधित है. मौजूदा सरकार ने उन्हें बुलंदशहर का डीएम (DM) बनाया था. बुलंदशहर में डीएम पद पर तैनाती के दौरान ही सीबीआई ने उनके सरकारी आवास पर छापा मारा था.

देखें लाइव टीवी

जानकारी के मुताबिक आईएएस अभय से ईडी ने पिछले सालों के उनके आयकर रिटर्न के आधार पर भी सवाल किए. सूत्रों के मुताबिक कुछ सवालों के जवाब आईएएस अभय सहजता से नहीं दे पाए. बताया जा रहा है कि ईडी इसी मामले में वर्ष 2009 बैच के आईएएस विवेक और 2011 बैच के आईएएस डीएस उपाध्याय से भी पूछताछ करने की तैयारी में है.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)