ATP रैंकिंग में दिविज शरण की बड़ी छलांग, एशिया के नंबर वन डबल्स खिलाड़ी बने

ATP रैंकिंग में दिविज शरण की बड़ी छलांग, एशिया के नंबर वन डबल्स खिलाड़ी बने
नई दिल्ली. दिविज शरण (Divij Sharan) एटीपी डबल्स रैंकिंग (ATP Doubles Ranking) सूची में अब केवल भारत के ही नहीं बल्कि एशिया (Asia) के भी नंबर एक खिलाड़ी बन  गये हैं जो हाल में तीन पायदान के फायदे से 42वें नंबर पर पहुंच गये.

उनसे ऊपर सभी 41 खिलाड़ी यूरोप (Europe), अमेरिका (America) और कुछ दक्षिण अमेरिकी (South America) देश जैसे ब्राजील (Brazil) और अर्जेंटीना के हैं. दिविज ने पीटीआई से कहा, ‘इस उपलब्धि तक पहुंचकर अच्छा महसूस हो रहा है. यह ऐसी उपलब्धि है जो पूरी जिंदगी मेरे साथ ही रहेगी. ’

रोहन बोपन्ना के साथ बनाई थी जोड़ी

टोक्यो ओलिंपिक (Tokyo Olympic) को ध्यान में रखते हुए इस बांए हाथ के खिलाड़ी ने हमवतन रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) के साथ जोड़ी बनायी थी और टाटा ओपन (TATA Open) महाराष्ट्र में जीत से शानदार शुरुआत की थी.हालांकि यह भागीदारी ज्यादा लंबे समय तक नहीं चल सकी और उनके कई नतीजे काफी खराब रहे. उनकी 40 में रैंकिंग बतौर टीम उन्हें बड़े टूर्नामेंट में प्रवेश नहीं दिला सकी. इससे दिविज को सत्र के दौरान कई जोड़ीदार बदलने पड़े.

divij sharan, rohan bopanna,  davis cup, india vs pakistan tennis, india pakistan davis cup, davis cup ind vs pak postponed,
दिविज शरण रोहन बोपन्ना के साथ ओलिंपिक में खेलने वाले हैं


इस साल खेले गये 28 टूर्नामेंट में दिविज ने 10 अलग अलग जोड़ीदारों के साथ जोड़ी बनायी और उन्हें ब्राजील के मार्सेलो डेमोलिनर के साथ अच्छे परिणाम मिले जिनके साथ वह म्यूनिख में बीएमडब्ल्यू ओपन के फाइनल तक भी पहुंचे. उन्होंने स्लोवाकिया के इगोर जेलेने के साथ मिलकर सेंट पीटर्सबर्ग ओपन में जीत हासिल की.
ओलिंपिक में बोप्पना के साथ खेलेंगे दिविज शरण

इंडियन ऑयल के साथ कार्यरत दिल्ली के इस खिलाड़ी ने कहा, ‘यह सच है कि मैं विभिन्न जोड़ीदारों के साथ खेला हूं लेकिन पिछले 52 हफ्तों में आर्टेम, रोहन और मार्सेलो के साथ मेरी कुछ जोड़ियां अच्छे नतीजे दिलाने वाली रही हैं. इन हर जोड़ीदारों के साथ मैंने अपने खेल पर ध्यान लगाने की कोशिश की है कि मैं टीम के लिये कितना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सकता हूं.’ दिविज ने कहा कि वह और बोपन्ना फिर से टूर पर एक साथ वापसी कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘रोहन और मुझे जोड़ी तोड़नी पड़ी थी क्योंकि हम एक साथ बड़े टूर्नामेंट नहीं मिल रहे थे. हम दोनों ओलिंपिक में एक साथ खेलने के लिये तैयारी कर रहे हैं. हम खेलों से पहले एक साथ कुछ टूर्नामेंट खेलने की कोशिश करेंगे. बल्कि हम अगले हफ्ते ही स्टॉकहोम ओपन में भी एक साथ खेलेंगे. ’ दिविज और बोपन्ना (रैंकिंग 44) दोनों सरकार की टॉप्स योजना का हिस्सा हैं.

शर्मनाक हार के बाद पाकिस्तानी संसद में हंगामा, मिस्बाह से लेकर सरफराज तक...

BCCI की शीर्ष परिषद का हिस्सा होंगी रंगास्वामी, आजाद और गायकवाड़ में मुकाबला

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)