विश्‍वनाथन आनंद ने कहा- धोनी के पास अब हासिल करने के लिए कुछ नहीं बचा

विश्‍वनाथन आनंद ने कहा- धोनी के पास अब हासिल करने के लिए कुछ नहीं बचा
महान शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद (Viswanathan Anand) ने कहा है कि संन्यास पर फैसला करना पूरी तरह से महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का विशेषाधिकार है और अपने करियर में सब कुछ हासिल करने के बाद यह पूर्व कप्तान संतुष्ट होकर जाएगा. इसी साल आईसीसी विश्व कप (ICC World Cup) के सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद इस अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज के संन्यास को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन धोनी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और प्रादेशिक सेना में अपनी रेजीमेंट के साथ काम करने के लिए ब्रेक लिया.

इस महीने खत्‍म हो रहा धोनी का ब्रेक
धोनी का दो महीने का ब्रेक इसी महीने खत्म होगा. उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 15 सितंबर से शुरू हो रही टी20 श्रृंखला के लिए भी भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया है. आनंद ने चेन्नई से पीटीआई से कहा, ‘उसे (धोनी को) पता है कि उसके लिए सही फैसला क्या है. लेकिन मुझे लगता है कि ऐसा कुछ नहीं बचा है तो उसने हासिल नहीं किया हो.’

ms dhoni, ms dhoni retirement, viswanathan anand, ms dhoni career, एमएस धोनी, धोनी संन्‍यास, विश्‍वनाथन आनंद
शतरंज के दिग्‍गज खिलाड़ी विश्‍वनाथन आनंद.
'वह शानदार कप्‍तान रहा, उससे बेहतर फैसला कोई नहीं ले सकता' 
उन्होंने कहा, ‘उसके बहुत सारे प्रशंसक हैं. उसने वह सब कुछ हासिल किया जो लक्ष्य था. उसने कप्तान के रूप में भारत को दो विश्व कप (2007 में विश्व टी20 और 2011 में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय विश्व कप) दिलाए. वह शानदार कप्तान रहा. उससे बेहतर कोई फैसला नहीं कर सकता (कि उसे कब संन्यास लेना है).’

'उसके लिए अब कुछ नहीं बचा'
पांच बार के विश्व चैंपियन आनंद ने कहा, ‘बेशक वह यह जानने के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थिति में है कि वह क्या चाहता है. लेकिन अगर वह संन्यास लेता है तो उसके हासिल करने के लिए कुछ नहीं बचा है. वह करियर शानदार रहा.’

एमएस धोनी के संन्यास की खबरों पर चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने दिया बड़ा बयान

IND v SA: यह है केएल राहुल को बाहर करने की सबसे बड़ी वजह‍ 

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)