डु प्लेसी ने दिया टीम में बदलाव का इशारा, कहा हर हाल में चाहिए 20 विकेट

डु प्लेसी ने दिया टीम में बदलाव का इशारा, कहा हर हाल में चाहिए 20 विकेट
पुणे. कप्तान फाफ डु प्लेसी (Faf Du Plessi) को लगता है दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) से बहुत कुछ सीख सकते हैं जिसमें घरेलू परिस्थितियों में प्रभावशाली गेंदबाजी करना भी शामिल है.

शमी (Mohammad Shami) ने पहले टेस्ट के पांचवे दिन विशाखापत्तनम (Vishakhapatnam) में घातक गेंदबाजी की जिससे भारत ने 203 रन से मैच को अपने नाम किया. डु प्लेसी  ने दूसरे टेस्ट से पहले बुधवार को कहा, ‘मैंने अपने एक युवा गेंदबाज से कहा कि आपके लिए यह सीखने का अच्छा मौका है. मैंने कहा कि आप देख सकते है घरेलू परिस्थितियों में जब कोई शीर्ष पर होता है तो कैसा क्रिकेट खेलता है.

शमी की जमकर तारीफ की
उन्होंने कहा, ‘आप (युवा खिलाड़ी) यह सीख सकते है कि क्रीज के कोण का इस्तेमाल और गेंद को रिवर्स स्विंग कराने के बारे में सीख सकते है. ऐसे में जाहिर है सीखने के लिए काफी कुछ है.’ शमी ने मैच के पांचवें दिन जिस प्रभावशाली तरीके से गेंदबाजी की उससे दक्षिण अफ्रीका के कप्तान काफी प्रभावित हुए है.
rohit sharma, mohammed shami, indian cricket team, india south africa test, shami biryani, रोहित शर्मा, मोहम्‍मद शमी, शमी बिरयानी, इंडियन क्रिकेट टीम, शमी 5 विकेट, इंडिया साउथ अफ्रीका
मोहम्‍मद शमी ने पहले टेस्ट मैच में पांच विकेट हासिल किए थे


डु प्लेसी ने कहा कि शमी की गेंदबाजी की लैंथ से भी काफी कुछ सीखा जा सकता है. उन्होंने कहा, ‘वह ऐसा गेंदबाज है जिसकी गेंद स्टंप्स से बहुत ज्यादा टकराती हैं. गेंदबाजी के लिहाज से भी काफी कुछ सीखा जा सकता है. हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम बेहतर करें. खास कर पहली पारी में, हमने काफी वाइड गेंदे फेंकी (पहले टेस्ट) जिससे उन्होंने आसानी से रन बनाए.’

साउथ अफ्रीका की गेंदबाजी में सुधार चाहते हैं डु प्लेसी
डु प्लेसी ने इस बात का संकेत दिया कि दूसरे टेस्ट के लिए टीम में बदलाव हो सकता है. उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए टीम चयन के मायने यह है कि मैच जीतने वाले खिलाड़ियों का संयोजन बनाये. ऐसे में हमें उन खिलाड़ियों को ढूंढना होगा जो 20 विकेट ले सके और बड़ा स्कोर खड़ा कर सकें.’

उन्होंने कहा, ‘पहले टेस्ट में हम 20 विकेट नहीं निकाल सकें, यह ऐसा क्षेत्र है जिसमें हमें सुधार करना होगा . इससे आप मैच विजेता बनते हैं. हम ऐसे खिलाड़ियों का चयन करना चाहेंगे जो मैच में प्रभाव छोड़ना चाहेंगे.’ पुणे में 2017 में स्पिनरों की मदद वाली पिच पर ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराया था लेकिन दक्षिण अफ्रीका के कप्तान का मानना है कि यह पिच एकतरफा नहीं होगी क्योंकि यह टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है.

इंडिया-साउथ अफ्रीका मैच से पहले जरूरी है पुणे की पिच की कहानी जानना

सामने आया 'विराट कोहली' का सच, पेशे से हैं इंजीनियर, चुनाव में किया था प्रचार

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)