IND v SA: यह है केएल राहुल को बाहर करने की सबसे बड़ी वजह‍

IND v SA: यह है केएल राहुल को बाहर करने की सबसे बड़ी वजह‍
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 टेस्‍ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया. स्‍टार बल्‍लेबाज केएल राहुल (KL Rahul)को टीम से बाहर कर दिया गया है. वे लंबे समय से खराब फॉर्म से गुजर रहे थे. उनकी जगह युवा बल्‍लेबाज शुभमन गिल को टीम में जगह दी गई है. उन्‍हें पहली बार भारतीय टेस्‍ट टीम में शामिल किया गया है. इनके अलावा टीम में और कोई बदलाव नहीं हुआ है. ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को भी टीम में नहीं चुना गया है. सलामी बल्‍लेबाज केएल राहुल का टीम इंडिया से बाहर होना तय माना जा रहा था. वे टेस्‍ट क्रिकेट में लंबे समय से फ्लॉप चल रहे थे.

केएल राहुल का पिछले एक साल में टेस्ट फॉर्मेट में खराब प्रदर्शन रहा है. पिछली 12 टेस्‍ट पारियों में उनके नाम एक भी अर्धशतक नहीं हैं. हाल ही में समाप्‍त हुए वेस्‍टइंडीज दौरे पर 2 टेस्‍ट में वे 44 रन उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर था. दो टेस्‍ट में उन्‍होंने 101 रन बनाए थे. इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर भी वे नाकाम रहे थे और वहां उन्‍होंने 3 टेस्‍ट खेले थे जिनमें 44 रन उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर था. इसी वजह से मेलबर्न में खेले गए टेस्‍ट में उन्‍हें बाहर कर दिया गया था.

उन्होंने आखिरी बार टेस्ट में 50 से ज्यादा रन की पारी पिछले साल अक्टूबर 2018 में इंग्लैंड दौरे पर खेली थी. इसके बाद से वह टेस्‍ट में एक अर्धशतक के लिए जूझ रहे हैं. साल 2018 में केएल राहुल (KL Rahul) ने 12 टेस्ट मैचों में 468 रन बनाए और उनका औसत सिर्फ 22.28 था. 2019 में इस साल उन्‍होंने तीन टेस्ट खेले हैं और उनका औसत 22 है. विदेश में केएल राहुल का औसत सिर्फ 30 है जो कि स्‍तरहीन है.

ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीमों के खिलाफ उनका औसत 40 से नीचे है, जो कि एक ओपनिंग बल्लेबाज के लिहाज से कतई अच्छा नहीं कहा जाएगा. इस प्रदर्शन की वजह से उनकी टीम इंडिया में जगह पर सवाल खड़े हो गए थे. वर्ल्‍ड कप में रोहित शर्मा ने 5 शतक उड़ाए थे और इसके बाद से उन्‍हें टेस्‍ट टीम में मौका दिए जाने की मांग तेज हो गई थी.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)