पंजाब में दहशत फैलाने की रची जा रही थी साजिश, तरनतारन ब्लॉस्ट में 10 कट्‌टरपंथी युवक हिरासत में

पंजाब में दहशत फैलाने की रची जा रही थी साजिश, तरनतारन ब्लॉस्ट में 10 कट्‌टरपंथी युवक हिरासत में

मनीष शर्मा, तरनतारन: पंजाब के तरनतारन (Tarn Taran) के गांव पंडोरी गोलां ब्लॉस्ट (Blast) मामले में पुलिस (Poice) और काउंटर इंटेलिजेंस अब तक 50 से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ कर चुकी है. इनमें 8 से 10 महिलाएं शामिल हैं. हालांकि तब से लेकर अब तक तरनतारन के एसएसपी ध्रुव दहिया इस मामले में मीडिया से दूरी बनाए हुए हैं. लेकिन भरोसेमंद सूत्रों के मुताबिक घटना के 8वें दिन तक पुलिस के हाथ कई ऐसे अहम सबूत लगे हैं जिससे साफ है कि विदेशों में बैठे कट्‌टरपंथी ग्रुप पंजाब (Punjab) में दहशत फैलाने की साजिश में थे.

इसके लिए पुलिस ने इन कट्‌टरपंथी ग्रुप (radical group) से जुड़े 10 से 12 युवकों को हिरासत में लिया है. जिनके खाते (Bank Accont) में विदेशों से 5 लाख रुपए के लगभग की फंडिंग (funding) भी हुई थी. बताते चलें कि 4 सितंबर की देर रात तरनतारन के गांव पंडोरी गोलां स्थित खाली प्लाट में जबरदस्त धमाका (blast) हुआ था जिसमें तरनतारन के गांव बचड़े निवासी हरप्रीत सिंह (22) और कदगिल निवासी विक्रम सिंह उर्फ विक्की (25) की मौत हो गई थी. जबकि उनका एक साथी गांव बचड़े निवासी गुरजंट सिंह (22) गंभीर रूप से घायल हो गया था. जिसकी इस हादसे में दोनों आंखों की रोशनी चली गई है और अभी भी वह तरनतारन (Tarn Taran) के निजी अस्पताल में गंभीर हालात में है.

पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amrinder Singh) ने घटना के तीसरे दिन ब्यान दिया था कि उक्त तीनों बोतल बम (Bottle Bomb) को निकालने गए थे और वह फट गया था. मुख्यमंत्री के इस ब्यान के बाद साफ हो गया था कि उक्त युवक किसी बड़ी साजिश (conspiracy) को अंजाम देने की फिराक में थे. सूत्रों की मानें तो पुलिस ने इस मामले में तरनतारन के गांव पलासौर से धरमिंदर सिंह, तरनतारन (Tarn Taran) के मोहल्ला मुरादपुरा से मनप्रीत सिंह के इलावा बटाला, गुरदासपुर और अमृतसर से 12 के लगभग युवकों को हिरासत में लिया है जिनका संबंध पंजाब में दहशत फैलाने की साजिश रचने में है.

सूत्रों के मुताबिक मनप्रीत सिंह, धरमिंदर सिंह और हरजीत सिंह के बैंक खातों में विदेशों से फंडिंग हुई है. इस घटना में मरने वाले हरप्रीत सिंह का दोस्त हरजीत सिंह घटना स्थल से 250 मीटर की दूरी पर रहता था जो अब तक फरार है. उसके घर से पुलिस (Police) को एक राइफल बरामद हुई थी. फिलहाल तरनतारन पुलिस घटना को सुलझाने के कगार पर है और फारेंसिक रिपोर्ट का इंतेजार कर रही है.

देखें लाइव टीवी

अब तक का घटना क्रम
- 4 सितंबर की देर रात तरनतारन के गांव पंडोरी गोलां में ब्लॉस्ट हुआ. दो युवकों की मौत हो गई और एक घायल हो गया. घटना के चंद मिनटों के बाद तरनतारन के एसएसपी ध्रुव दहिया सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे व जांच शुरू की.
- घटना के अगले दिन 5 सिंतबर की सुबह 8 बजे बार्डर रेंज से फारेंसिक टीम, डॉग स्कवॉयड और बम निरोधक टीम घटना स्थल पर पहुंचती है और उन्हें मौके से बारूद के सबूत मिलते हैं. बम निरोधक टीम आस-पास किसी अन्य बम होने संबंधी जांच करती है लेकिन कुछ नहीं मिला. पुलिस ने तरनतारन के खेमकरण से एक और बटाला से दो युवकों को हिरासत में लिया. घटना में मरने वाले हरप्रीत सिंह के दोस्त हरजीत सिंह के घर पुलिस ने दस्तक दी, हरजीत सिंह फरार था. उसके घर से उसके बैंक खातों की पासबुक कब्जे में ली. वहां से एक राइफल भी बरामद हुई.
- इसी शाम नेशनल इनवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) के एसपी बीएस बृजवानी अपनी इनवेस्टीगेशन टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंचे. इस टीम ने दो घंटे घटना स्थल की जांच की और पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की. शव अगले दिन भी घटना स्थल से नहीं उठाए गए.
- 6 सितंबर की दोपहर नेशल स्कयोरेटी गार्ड (एनएसजी) कमांडो की टीम घटना स्थल पर पहुंची. मौके से सबूत एकत्रित किए. गांव वासियों से पूछताछ की. इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम हाउस भेजा गया. इसी शाम तक पुलिस ने रेडिकल संगठनों से संबंधित बीस के लगभग युवक राउंडअप किए. इसके इलावा घायल गुरजंट सिंह के घर दबिश दी वहां से एक मैग्जीन और हथियारों के दो लाइसेंस के अलावा गुरजंट सिंह व उसके परिवार के बैंक खातों की पासबुक जब्त की.
- 7 सितंबर को घायल गुरजंट सिंह की मां को हिरासत में लिया गया. इसके अलावा रेडिकल संगठनों से संबंधित 12 के लगभग युवकों को हिरासत में लिया गया. इनमें तरनतारन के गांव पलासौर से धमिंदर सिंह, मुरादपुरा से मनप्रीत सिंह शामिल थे. दोनों के खातों में विदेशों से फंडिंग भी हुई थी.
- 8 सिंतबर से 12 सितंबर तक लगातार रेडिकल संगठनों से संबंधित युवकों को हिरासत में लेना जारी है.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)