पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था बेहद खराब, केंद्र चाहे तो वहां राष्ट्रपति शासन लगा सकता है : कांग्रेस

पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था बेहद खराब, केंद्र चाहे तो वहां राष्ट्रपति शासन लगा सकता है : कांग्रेस

खास बातें

  1. लोकसभा में कांग्रेस के नेता हैं अधीर रंजन चौधरी
  2. पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था का किया जिक्र
  3. बीजेपी-TMC पर लगाया सांठगांठ का आरोप
नई दिल्ली:

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था की हालत बहुत ही खराब हो गई है. अगर केंद्र सरकार चाहे तो वहां राष्ट्रपति लगा सकती है. कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि राज्य में बीजेपी राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग करती है लेकिन दिल्ली में वे टीएमसी के साथ दोस्ताना व्यवहार करते हैं. कांग्रेस नेता की ओर यह बयान टीएमसी को नागवार गुजर सकता है क्योंकि भले ही लोकसभा चुनाव में दोनों पार्टियों के बीच समझौता न हो पाया हो लेकिन संसद में कई नीतिगत मुद्दों पर दोनों पार्टियां साथ खड़ी आती हैं. अब देखने वाली बात यह होगी कि अधीर रंजन चौधरी के बयान पर तृणमूलर कांग्रेस यानी टीएमसी की ओर से क्या बयान आता है.


गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या की खबरें लगातार आ रही हैं. मुर्शिदाबाद में एक परिवार के सभी तीन सदस्यों, जिनमें आठ-वर्षीय बच्चा और उसकी गर्भवती मां भी शामिल हैं, को धारदार हथियारों से काट डाला गया. यह जानकारी एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बुधवार को दी. 35-वर्षीय स्कूल शिक्षक बंधुप्रकाश पाल, उनकी 30-वर्षीय पत्नी ब्यूटी तथा आठ-वर्षीय पुत्र आंगन के शव जियागंज इलाके में स्थित उनके घर में अलग-अलग स्थानों से मंगलवार को बरामद हुए. घर में जगह-जगह खून फैला हुआ था.

मुर्शिदाबाद में तिहरे हत्याकांड ने लिया राजनीतिक रंग, राज्यपाल ने सरकार को घेरा

इन हत्याओं ने उस समय राजनैतिक रंग ले लिया, जब भारतीय जनता पार्टी (BJP) तथा उसके वैचारिक संरक्षक माने जाने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने कहा कि बंधुप्रकाश पाल RSS के कार्यकर्ता थे. BJP के प्रवक्ता संबित पात्रा ने विचलित करने वाले दृश्यों की चेतावनी देते हुए नृशंस तरीके से मारे गए इस परिवार के सदस्यों के शवों का एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, "इसने मेरी अंतरात्मा को हिलाकर रख दिया है... एक RSS कार्यकर्ता श्री बंधुप्रकाश पाल, उनकी आठ महीने की गर्भवती पत्नी तथा उनके बच्चे को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में क्रूरता से काट डाला गया... उदारवादियों की ओर से एक शब्द भी नहीं कहा गया... 59 उदारवादियों की तरफ से ममता को एक खत भी नहीं... इस तरह कुछ खास घटनाओं पर ही प्रतिक्रिया दिए जाने से मुझे घिन आती है..."

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: मुर्शिदाबाद में 50 मिनट के भीतर परिवार के तीन लोगों की हत्या​

टिप्पणियां

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Ndtv India.)