पैसे देकर मनचाहे देश की नागरिकता लेने का सालाना कारोबार 1.8 लाख करोड़ रु. से ज्यादा का

पैसे देकर मनचाहे देश की नागरिकता लेने का सालाना कारोबार 1.8 लाख करोड़ रु. से ज्यादा का





लंदन. किसी देश की नागरिकता हासिल जन्म के आधार पर मिलती है, लेकिन किसी देश में लंबे समय तक काम करने के आधार पर भी इसे हासिल किया जा सकता है। इन सबसे अलग अब पैसे के दम पर नागरिकता पाने का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है। दुनिया के आधे देश निवेश आकर्षित करने के लिए नागरिकता ऑफर कर रहे हैं। यह वैद्य कारोबार अब सालाना 2500 करोड़ डॉलर (करीब 1.8 लाख करोड़ रुपए) का हो गया है।

दुनियाभर में 100 से ज्यादा कंपनियां नागरिकता के कारोबार में लगी हैं। इन्हें उन देशों की मदद हासिल है जो अपने यहां निवेश हासिल करना चाहते हैं। लंदन स्थित हेनली एंड पार्टनर्स इस क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। कंपनी के चेयरमैन क्रिस्टियन कालिन कहते हैं कि वे दुनिया के धनी लोगों और उनके परिवारों को अलग-अलग देशों की नागरिकता हासिल करने में मदद करते हैं।

  • दोहरी नागरिकता का चलन बढ़ने के बाद से इस ट्रेंड में तेजी आई
  • कई कंपनियां नागरिकता के कारोबार में मौजूद
  • दुनिया के आधे से ज्यादा देश बड़े निवेश के बदले नागरिकता ऑफर करते हैं

नागरिकता पाने के लिए देशों की रेट लिस्ट

देश कीमत करोड़ रुपए में
एंटीगुआ एंड बारबुडा0.71
सेंट किट्स1.06
मोंटेनिग्रो1.94
पुर्तगाल2.72
स्पेन3.90
बुल्गारिया3.97
माल्टा 7.1
अमेरिका

3.6-7.1

ब्रिटेन17.76


वनुआतू के नागरिक बिना वीसा यूरोप घूम सकते हैं
पैसिफिक आइलैंड वनुआतू लोगों को इसलिए आकर्षित करता है, क्योंकि यहां का पासपोर्ट हासिल करने वाले बिना वीसा के यूरोप में कहीं भी आ-जा सकते हैं। इस देश की नागरिकता खरीदने वालों में कई ऐसे हैं जो वहां की नागरिकता पाने के बाद भी आज तक वनुआतू नहीं गए। अमेरिका की नागरिकता पाने के लिए वहां निवेश के अलावा ऐसा बिजनेस शुरू करना होता है जो 10 लोगों को रोजगार दे।









citizenship of the country on the basis of money, annual turnover 1.8 lakh crore rupees






(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Bhaskar.)