दिव्यांग वैज्ञानिक ने बनाई स्मार्ट छड़ी वीवॉक, यह यूजर को बोलकर बताती है रास्ता

दिव्यांग वैज्ञानिक ने बनाई स्मार्ट छड़ी वीवॉक, यह यूजर को बोलकर बताती है रास्ता





गैजेट डेस्क. तुर्की के डिजानर कुर्सत सेलन जो खुद एक दिव्यांग (दृष्टिहीन) है ने स्मार्ट छड़ी डिजाइन की है। इसे वीवॉक नाम दिया गया है। इसे खासतौर से दृष्टिहीन लोगों के लिए तैयार किया गया है। मॉडर्न तकनीक से लैस यह स्मार्ट छड़ी दिव्यांगों को बोलकर रास्ता बताती है। इसके साथ ही यह रास्ते में आने वाली दुकानों और इमारतों के बारे में भी जानकारी देती है। इसमें कई एडवांस्ड सेंसर लगे हैं, जो रास्ते में किसी भी तरह की बाधा आने पर यूजर को अलर्ट करते हैं। सेलन यंग गुरू अकादमी के को-फाउंडर है।

  1. स्मार्ट तकनीक से लैस वीवॉक दिव्यांगों को आसपास के चीजों के बारे में बोलकर बताती है। यह बिल्ट-इन स्पीकर, स्मार्टफोन इंटिग्रेशन सिस्टम के अलावा कई तरह के सेंसर से लैस हैं, जो बाधा होने पर यूजर को अलर्ट करते हैं।

  2. वीवॉक डिवाइस में एक इलेक्ट्रॉनिक हैंडल लगा है। इसमें नीचे की और एक रेगुलर एनालॉग छड़ फिट हो जाती है। यह अल्ट्रासॉनिक सेंसर की मदद से पैर से सीने तक आने वाली किसी भी तरह की बाधा को पहचान लेता है और हैंडल में वाइब्रेशन कर यूजर को अलर्ट करता है।

  3. यूजर इसे स्मार्टफोन से कनेक्ट कर सकते हैं। यह गूगल मैप और वॉयस असिस्टेंट फीचर को सपोर्ट करती है। इसमें लगे बिल्ट-इन स्पीकर यूजर को रास्ते में आने वाले दुकानों और इमारतों के बारे में बोलकर बतातें हैं, जिसे वह देख नहीं सकते।

  4. वीवॉक ओपन प्लेटफार्म तकनीक पर बेस्ड है, यानी इसे किसी भी थर्ड पार्टी ऐप के जरिए स्मार्टफोन से कनेक्ट किया जा सकता है। इसकी नेवीगेशन क्षमता को और बेहतर बनाने के लिए इसे राइडिंग ऐप और ट्रांपोर्टेशन सर्विस से जोड़ने पर भी विचार किया जा रहा है।

  5. यह एंड्रॉयड और आईओएस दोनों तरह के डिवाइस के साथ काम करेगा है। इसमें यूएसबी इन्पुट है, जिसकी मदद से इसे चार्ज किया जा सकता है। फुल चार्ज होने पर इसे 5 घंटे तक इस्तेमाल किया जा सकता है। इसकी कीमत लगभग 35 हजार रुपए है।









    1. blind inventor creates smart cane that uses google maps to navigate visually impaired people






      (Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Bhaskar.)