तेजपत्ता मोच के दर्द में देगा आराम, ऐसे करें इस्तेमाल

तेजपत्ता मोच के दर्द में देगा आराम, ऐसे करें इस्तेमाल
भारतीय मसालों में तेजपत्ते का एक खास महत्व है. तेजपत्ता खाने का स्वाद दोगुना कर देता है इसलिए अधिकतर लोग अपने खाने में तेज पत्ते का इस्तेमाल करते हैं. इसके अलावा क्या आप जानते हैं कि तेजपत्ता हमारे स्वास्थ्य के लिए भी काफी लाभदायक है. तेजपत्ते का सेवन करने से कैंसर और हृदय संबंधित बीमारियों से बचा जा सकता है. सिर्फ इतना ही नहीं तेजपत्ते का काढ़ा और लेप मोच और नसों में सूजन को भी कम करने में सहायक है. तेजपत्ते में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, एंटी इंफ्लामेट्री और पेन रिलीविंग गुण पाए जाते हैं जिसकी वजह से यह दर्द में बेहद फायदेमंद है.

इसे भी पढ़ेंः ये सब्जी करती है Sunscreen का काम, जानिए इस्तेमाल करने का सही तरीका

ऐसे बनाएं काढ़ा

10 ग्राम तेजपत्ता, अजवायन और सौंफ को अच्छे से पीस लें. अब इसे एक लीटर पानी में उबाल लें. करीब 100 से 150 ग्राम पानी जब रह जाए तब गैस बंद कर लें. एक दिन में आप दो बार इसका सेवन कर सकते हैं. इसके नियमित सेवन से मोच और नसों में आने वाली सूजन दूर हो जाएगी.मोच के दर्द में आराम

मोच आने पर तेजपत्ता, अजवायन और सौंफ से बना काढ़ा किसी रामबाण से कम नहीं है. मोच आने पर आप इसका सेवन कर सकते हैं. यह दर्द और सूजन को कम करने में बेहद सहायक है. इसके अलावा आप तेजपत्ता और लौंग को पानी में पिसकर इसका लेप बना सकते हैं. तेजपत्ता और लौंग का लेप लगाने से दर्द में आपको काफी राहत मिलेगी.

इसे भी पढ़ेंः रोज पिएं दूध, बचाता है लंबी बीमारियों से: स्टडी
नसों के सूजन में आराम

नसों में सूजन आने के कारण काफी तकलीफ झेलनी पड़ती है और रोजाना का काम भी प्रभावित होता है. नसों में सूजन अत्यधिक खिंचाव, चोट और नसों पर दबाव पड़ने से होता है. इस स्थिति में तेजपत्ता, अजवायन और सौंफ से बना यह काढ़ा नसों में होने वाली सूजन को कम करता है. इसके अलावा दालचीनी, लौंग और तेजपत्ते को पीसकर उसके लेप को लगाने से दर्द भी कम होता है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)