बांग्लादेश: खिलाड़ियों के समक्ष झुका क्रिकेट बोर्ड; मानी 11 मांगें, हड़ताल खत्म

बांग्लादेश: खिलाड़ियों के समक्ष झुका क्रिकेट बोर्ड; मानी 11 मांगें, हड़ताल खत्म

ढाका: बांग्लादेश क्रिकेट (Bangladesh) का भारत दौरे से ठीक पहले आया संकट खत्म हो गया है. बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने हड़ताल में चल रहे क्रिकेटरों की 13 में से 11 मांगें मान ली हैं. इसके साथ ही क्रिकेटरों ने अपनी हड़ताल वापस ले ली है. बांग्लादेश की क्रिकेट टीम को अगले महीने भारत दौरे (India vs Bangladesh) पर आना है. दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज खेली जानी है. इसके बाद दो मैचों की टेस्ट सीरीज भी खेली जाएगी, जो आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का भी हिस्सा है. 

बांग्लादेश के क्रिकेटरों ने तीन दिन पहले 11 मांगों को लेकर हड़ताल शुरू की थी. बीसीबी (BCB) के अध्यक्ष नजमुल हसन (Nazmul Hassan) ने पहले इस हड़ताल को भाव नहीं दिया. उन्होंने इसे साजिश करार दिया. खिलाड़ी भी अपनी हड़ताल पर डटे रहे. इसके बाद टीम के पूर्व कप्तान व सांसद मशरफे मुर्तजा ने क्रिकेटरों और क्रिकेट बोर्ड के बीच समझौता कराने की कोशिश की, जो कामयाब भी रही. 

क्रिकेटरों की अगुवाई कर रहे शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) ने बुधवार रात बताया, ‘हमारी बोर्ड अध्यक्ष और पदाधिकारियों से बात हुई है. चर्चा सकारात्मक रही है. उन्होंने हमारी ज्यादातर मांगें मान ली हैं. इन्हें जल्द से जल्द पूरा करने का भरोसा दिलाया है. अब हम एनसीएल (NCL) में प्रैक्टिस शुरू करने जा रहे हैं. हम ट्रेनिंग कैंप में भी हिस्सा लेंगे.’ 

बांग्लादेश के क्रिकेटरों ने 11 मांगों को लेकर हड़ताल शुरू की थी. बाद में उन्होंने इस लिस्ट में दो मांगें और जोड़ दी थीं. इन दो मांगों में बोर्ड की कमाई में खिलाड़ियों का हिस्सा और महिला क्रिकेटरों को पुरुष क्रिकेटरों के बराबर वेतन शामिल हैं. बोर्ड ने खिलाड़ियों की 13 में से 11 मांगें मान ली हैं.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)