'पीएम के जन्मदिन पर सभी स्कूल आर्टिकल 370 और 35ए पर वाद विवाद'

'पीएम के जन्मदिन पर सभी स्कूल आर्टिकल 370 और 35ए पर वाद विवाद'
अहमदाबाद जिला शिक्षा विभाग ने एक सर्कुलर में सभी सरकारी, अनुदान प्राप्त और स्व-वित्तपोषित माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर कार्यक्रमों की व्यवस्था करने के लिए कहा है. जिला शिक्षा विभाग ने कहा है कि कार्यक्रम में अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए के निरस्तीकरण पर व्याख्यान कराए जाएं.

अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक सर्कुलर में कहा गया है, 'अनुच्छेद 370 और 35 ए के तहत , भारतीय संसद ने सराहनीय और जनोन्मुखी कदम उठाया है, जिसे पूरे देश में बहुत सराहना मिली है. देश को दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण पहचान मिली है.'

सर्कुलर में विषय को बताया सामाजिक विज्ञान से जुड़ा

आदेश में कहा गया है कि 1,050 माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के स्कूल प्रधानाचार्यों, जहां अनुमानित 2.75 लाख छात्र हैं. सभी को तस्वीरों के साथ कार्यक्रम की जानकारी देने के लिए कहा गया है. सर्कुलर के अनुसार कार्यक्रम की थीम, स्कूल शिक्षा के 'सामाजिक विज्ञान विषय से जुड़ी' हुई है.'इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार सर्कुलर में कहा गया है कि '17 सितंबर को प्रधानमंत्री का जन्मदिन है. इसलिए इस दिन, सभी स्कूलों को मॉर्निंग असेंबली सत्र एलक्यूशन प्रतियोगिता, वाद-विवाद प्रतियोगिता, समूह चर्चा और निबंध प्रतियोगिता के साथ-साथ विशेषज्ञों द्वारा अन्य प्रतियोगिताओं की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि छात्रों को अनुच्छेद 370 और 35 ए को समझने में मदद मिले.'

सेवा सप्ताह मनाएगी बीजेपी 

वहीं बीजेपी, 'सेवा सप्ताह' के नाम से देश भर में पूरे हफ्ते कार्यक्रम करेगी. सेवा सप्ताह कार्यक्रम के लिए बीजेपी ने केंद्रीय समिति का गठन किया है, जिसका संयोजक अविनाश राय खन्ना को बनाया गया है. साथ ही केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, राष्ट्रीय सचिव सुधा यादव और सुनील देशधर को भी अभियान की जिम्मेदारी सौंपी गई है.
इस अभियान के दौरान पार्टी नेता, कार्यकर्ता जनता के साथ तीन संकल्प भी लेंगे. जिनमें पहला है स्वच्छता के लिए भागीदारी, दूसरा जल संरक्षण और तीसरा एक बार उपयोग में आने वाले प्लास्टिक के प्रयोग पर रोक लगाना शामिल है.

हफ्ते भर चलने वाले इस अभियान के दौरान जगह-जगह पार्टी के कार्यकर्ता रक्तदान शिविर, स्वास्थ्य जांच शिविर, आंखों की जांच एवं ऑपरेशन की व्यवस्था करवाएगी.

यह भी पढ़ें:  इन दुकानदारों को नहीं मिलेगी 3000 रुपये वाली पेंशन, जानें शर्तों के बारे में..

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)