'शस्त्र पूजा' को खड़गे ने 'तमाशा' बताया तो कांग्रेस के अंदर से ही उठने लगीं आवाजें, BJP का भी पलटवार

'शस्त्र पूजा' को खड़गे ने 'तमाशा' बताया तो कांग्रेस के अंदर से ही उठने लगीं आवाजें, BJP का भी पलटवार

खास बातें

  1. शस्त्र पूजा को खड़गे ने बताया तमाशा
  2. शस्त्र पूजा तमाशा नहीं है: संजय निरुपम
  3. भारतीय जनता पार्टी का पलटवार
नई दिल्ली:

देश के लिए पहला राफेल विमान (Rafale Jet) लाने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के फ्रांस जाने और 'शस्त्र पूजा' (Shastra Puja) करने पर कांग्रेस (Congress) के भीतर से ही दो सुर सामने आ रहे हैं. वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने इसे 'तमाशा' करार देते हए कहा कि ऐसा ड्रामा करने की जरूरत ही नहीं थी. तो वहीं, दूसरी तरफ टिकट बंटवारे को लेकर नाराज चल रहे मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) ने कहा कि हमारे देश में शस्त्र पूजा की परंपरा है. खड़गे नास्तिक हैं इसलिए ऐसी बातें कर रहे हैं. बता दें कि दशहरे के मौक़े पर राफेल की डिलिवरी लेने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रफ़ाल की शस्त्र पूजा. रफ़ाल पर ओम लिखने के बाद उन्होंने नारियल फोड़ और पहियों के नीचे नींबू रखकर उसकी विधिवत पूजा की थी. कांग्रेस के बयान पर बीजेपी (BJP) ने पलटवार किया है.


पहला राफेल मिलने के बाद बोले रक्षामंत्री Rajnath Singh, दूसरे देश को धमकाने के लिए हथियार नहीं खरीदता भारत

गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि अभी-अभी मुझे पता चला कि कांग्रेस के खड़गे साहब ने बयान दिया है कि राफेल की शस्त्र पूजा का तमाशा करने की क्या जरूरत थी? अमित शाह ने कहा कि इसमें इनका दोष नहीं है, क्योंकि इनको इटली की संस्कृति की ज्यादा जानकारी है, भारत की संस्कृति की नहीं.

फ्रांस में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लड़ाकू विमान Rafale में भरी उड़ान, की 'शस्त्र पूजा'- देखें VIDEO

वहीं, मनोज तिवारी ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं द्वारा शस्त्र पूजा पर टिप्पणी करते हुए नींबू रखने का मजाक बनाया गया जिसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम है. शस्त्र पूजा करना रोली चंदन से शस्त्रों को तिलक कर शुभ करना, नारियल, नींबू लगाना भारतीय संस्कृति का प्रमुख हिस्सा है. हिन्दू धर्म में माने जाने वाले शुभ रिवाज है जिनके पश्चात ही कोई शुभ कार्य किया जाता है, लेकिन कांग्रेस ने इस तरह के आपत्तिजनक बयानों से यह स्पष्ट कर दिया है कि वो संस्कार विहीन पार्टी है. दलगत राजनीति से परे कांग्रेस को देश के सेना व सुरक्षा के मामले में बयानबाजी नहीं करनी चाहिये.

टिप्पणियां

भारत को मिला पहला Rafale विमान, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया 'ऐतिहासिक दिन'

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस के नेता सोशल मिडिया पर इस तरह की बयानबाजी कर अपनी मानसिक प्रवृति का प्रदर्शन देश के सामने कर रहे हैं. राफेल आने से देश के सेना की शक्ति दोगुनी हुई है, जिसके लिए देश के प्रधानमंत्री मोदी एवं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का प्रयास अत्यन्त सराहनीय है.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Ndtv India.)