पाकिस्तान में बच्‍चे नहीं सुरक्षित, 6 महीने में 1,300 बाल यौन उत्पीड़न के मामले सामने आए

पाकिस्तान में बच्‍चे नहीं सुरक्षित, 6 महीने में 1,300 बाल यौन उत्पीड़न के मामले सामने आए

इस्लामाबाद : पाकिस्तान (Pakistan) में इस साल जनवरी से जून के बीच 1,300 से अधिक बाल यौन शोषण के मामले सामने आए हैं. एक रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. द न्यूज इंटरनेशनल की शनिवार की रिपोर्ट के मुताबिक, गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) साहिल द्वारा संकलित रिपोर्ट में कहा गया है कि इस अवधि में 729 लड़कियों और 575 लड़कों ने किसी न किसी प्रकार के यौन उत्पीड़न का सामना किया.

रिपोर्ट से पता चला कि पंजाब में 652, सिंध में 458, बलूचिस्तान में 32, जबकि खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa) में 51 मामले सामने आए हैं. इस बीच, कम उम्र के बच्चों के साथ यौन उत्पीड़न के मामले इस्लामाबाद में 90, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 18 और गिलगित-बाल्टिस्तान में तीन हैं.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि सिर्फ लाहौर में 50 बच्चे यौन उत्पीड़न का शिकार बने. यह भी खुलासा हुआ कि 12 नाबालिग लड़कियां और लड़के मदरसों में यौन उत्पीड़न का शिकार बने.

कसूर के चुनियान क्षेत्र से लापता चार बच्चों में से तीन के अवशेष मंगलवार को पाए जाने के बाद यह रिपोर्ट आई है. पुलिस ने कहा कि तीनों पीड़ितों के साथ दफनाने से पहले दुष्कर्म किया गया था.

LIVE TV...

कसूर पुलिस ने कहा था कि लापता हुए चार बच्चों में से केवल एक का शव बरामद किया गया है, जबकि अन्य दो के अवशेष मिले हैं, जिन्हें डीएनए परीक्षण के लिए भेजा जाएगा. उसी शहर से गुरुवार रात एक और बच्चे का अपहरण कर लिया गया.


(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Zee News.)